NDTV Khabar

दिल्ली हाईकोर्ट का फरमान: 6 हफ्तों में राजनीतिक दलों के विदेशी चंदे की जांच रिपोर्ट पेश करे केंद्र

दिल्ली हाईकोर्ट ने राजनीतिक दलों के विदेशी चंदे का पता लगाने के लिए सोमवार को केंद्र सरकार को 6 हफ्ते का वक्त दिया. 

283 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली हाईकोर्ट का फरमान: 6 हफ्तों में राजनीतिक दलों के विदेशी चंदे की जांच रिपोर्ट पेश करे केंद्र

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. कोर्ट के 2014 के फैसले के अनुपालन के लिए 'अंतिम मौका' दिया
  2. हाईकोर्ट ने 28 मार्च 2014 को छह महीने में जांच करने के दिए थे निर्देश
  3. कोर्ट के निर्देशों का पालन करने के लिए 31 मार्च 2018 तक का समय मांगा था
नई दिल्ली: दिल्ली हाईकोर्ट ने राजनीतिक दलों के विदेशी चंदे का पता लगाने के लिए सोमवार को केंद्र सरकार को 6 हफ्ते का वक्त दिया. कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी हरीशंकर ने अदालत के वर्ष 2014 के फैसले के अनुपालन के लिए गृह मंत्रालय को 'अंतिम मौका' दिया है.

यह भी पढ़ें : विदेशी चंदा : बीजेपी, कांग्रेस और AAP को ब्योरा देने के लिए 15 दिन की अतिरिक्त मोहलत

टिप्पणियां
उस समय  हाईकोर्ट ने पाया था कि दोनों दलों ने ब्रिटेन की कंपनी 'वेदांता रिसोर्सेज' की भारतीय अनुषंगी कंपनियों से चंदा स्वीकार कर विदेशी मुद्रा (नियमन) कानून (एफसीआरए) का उल्लंघन किया है. एफसीआरए की धारा चार किसी भी राजनीतिक दल या विधान मंडल को विदेशी चंदा स्वीकार करने पर पाबंदी लगाती है. 

VIDEO: गृह मंत्रालय ने कहा, विदेशी कंपनियों से चंदा ले रही 'आप'

हाईकोर्ट ने 28 मार्च 2014 को चुनाव आयोग और गृह मंत्रालय को आदेश दिया था कि वे राजनीतिक दलों के खातों की जांच करें और छह माह के भीतर कार्रवाई करें. हालांकि गृह मंत्रालय की ओर से केंद्र सरकार की स्थाई अधिवक्ता मोनिका अरोड़ा ने अदालत के निर्देशों का पालन करने के लिए 31 मार्च 2018 तक का विस्तार मांगा था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement