चोरी के पैसों से लगाता था हेल्थ कैंप, लड़ने वाला था चुनाव, अब चढ़ा पुलिस के हत्थे

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच की पकड़ में आए मोहम्मद इरफान उर्फ उजाले चोरी के पैसों से महंगे कपड़े और महंगी गाड़ियां खरीदता था.

चोरी के पैसों से लगाता था हेल्थ कैंप, लड़ने वाला था चुनाव, अब चढ़ा पुलिस के हत्थे

पुलिस गिरफ्त में मोहम्मद इरफान उर्फ उजाले.

खास बातें

  • दिल्ली में पकड़ा गया शातिर चोर
  • महंगी गाड़ियों का था शौकीन
  • मार्च में लड़ने वाला था चुनाव
नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच ने मोहम्मद इरफान उर्फ उजाले नाम के एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है, जो अपने गैंग के साथ दिल्ली, पंजाब और देश के दूसरों हिस्सों में चोरी की वारदातों को अंजाम देता था. इरफान चोरी के पैसों से महंगे कपड़े, महंगी गाड़ियां खरीदता था. वह अपने गृह जनपद बिहार के सीतामढ़ी से मार्च में जिला परिषद का चुनाव भी लड़ने वाला था. गरीबों का मसीहा बनने के लिए वह चोरी के पैसों से सीतामढ़ी में स्वास्थ्य कैंप लगवाता था और पैसे भी दान करता था.

क्राइम ब्रांच की डीसीपी मोनिका भारद्वाज के मुताबिक, एक सूचना के बाद इरफान उर्फ रॉबिनहुड उर्फ उजाले को 7 जनवरी को नारायणा फ्लाईओवर के पास से पकड़ा गया था. उसके पास से जगुआर और निसान की 2 महंगी कारें बरामद हुईं. आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह अपने गैंग के साथ केवल पॉश इलाकों के उन घरों में चोरी करता था, जो बंद होते थे.

चोरी के शक में दो युवकों को अगवा कर सिर मुंडवा दिया, कपड़े उतारकर निकाली बारात, पांच गिरफ्तार


उन्होंने बताया कि यह गैंग चोरी भी केवल नगदी और गहनों की करता था. दिल्ली पुलिस की निशानदेही पर पंजाब के जालंधर से भी इरफान के गैंग के तीन लोग पकड़े गए हैं, जिसमें एक महिला भी शामिल है. इनके पास से फ्रांस मेड पिस्टल और गहने मिले हैं. आरोपी ने पूछताछ में बताया कि बीते साल उसके गैंग ने जालंधर में एक घर से 26 लाख रुपये, हीरे और सोने के गहनों की चोरी की थी. पुलिस के मुताबिक इरफान बिहार में लोकप्रिय युवा नेता बनना चाहता था. कोरोना काल में गैंग वारदातों को अंजाम नहीं दे पा रहा था क्योंकि इस दौरान अधिकतर लोग अपने घरों में ही रह रहे थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: महाराष्ट्र: पीपीई किट पहनकर ज्वेलरी की दुकान से चोरों ने की चोरी