पूछताछ में हुआ खुलासा: शरजील इमाम ने कबूल किया उसके वीडियो से नहीं हुई कोई छेड़छाड़- दिल्ली पुलिस सूत्र

सूत्रों ने बताया कि पुलिस इस्लामिक यूथ फेडरेशन और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के साथ शरजील के रिश्तों की भी जांच कर रही है.

पूछताछ में हुआ खुलासा: शरजील इमाम ने कबूल किया उसके वीडियो से नहीं हुई कोई छेड़छाड़- दिल्ली पुलिस सूत्र

शरजील को बुधवार को एक अदालत ने पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा था.

नई दिल्ली:

देशद्रोह के मामले में गिरफ्तार किए गए जेएनयू के शोधार्थी शरजील इमाम ने पूछताछ में कबूल किया है कि उसके भाषण के वीडियो के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है. न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है. साथ ही एएनआई ने दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक बताया है कि जांच से पता चला है कि शरजील इमाम बेहद कट्टर है और शरजील का मानना है कि भारत को इस्लामिक देश हो जाना चाहिए. JNU विद्यार्थी ने यह भी स्वीकार किया है कि उसके अलग-अलग भाषणों के वीडियो किसी भी तरह टैम्पर नहीं किए गए हैं. 

सूत्रों ने बताया कि पुलिस इस्लामिक यूथ फेडरेशन और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के साथ शरजील के रिश्तों की भी तफ्तीश कर रही है. शरजील इमाम को गिरफ्तारी का कोई अफसोस नहीं है. JNU के विद्यार्थी के सभी वीडियो फॉरेंसिक साइंस लैब में भेजे जा रहे हैं, और सोशल मीडिया अकाउंटों की भी जांच की जा रही है.

कौन है शरजील इमाम जिन पर लगा है देशद्रोह का आरोप? जानें डिटेल्स

बता दें, शरजील को बुधवार को एक अदालत ने पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा था. शरजील की वकील मिशिका सिंह ने बताया कि उसे कड़ी सुरक्षा के बीच शाम में मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पुरुषोत्तम पाठक के आवास पर उनके समक्ष पेश किया गया. वकील ने बताया कि पुलिस ने शरजील से पूछताछ के लिए छह दिनों की हिरासत मांगी थी. जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ में भड़काऊ बयान देने के आरोप में शरजील को मंगलवार को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया था. उसे बुधवार को दिल्ली लाया गया.

वहीं, दिन में पटियाला हाउस अदालत परिसर में आज स्थिति तब तनावपूर्ण हो गई जब दिल्ली पुलिस ने बताया कि शरजील को वहां मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जाएगा. कुछ वकीलों ने शरजील के खिलाफ नारेबाजी की. कुछ वकील हाथों में पोस्टर लिए हुए थे, जिसमें शरजील को ‘देशद्रोही' कहा गया. उन्होंने उसे फांसी देने की मांग की.

पटना के महिला थाने में कटी शरजील इमाम की रात, रातभर बदलता रहा करवटें, पर आंखों से दूर रही नींद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एक वकील ने कहा, ‘‘हम यहां उनके खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए हैं जो देश को तोड़ने की बात करते हैं. सभी वकील ऐसे देशद्रोहियों के खिलाफ एकजुट हैं. उसे जेल से बाहर रहने का हक नहीं है. उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.'' अदालत परिसर के बाहर सीआरपीएफ कर्मियों समेत बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया था.

वीडियो: क्या शरजील इमाम ने असम को पाकिस्तान में मिलाने की बात कही है ?