अरविंद केजरीवाल पर कुमार विश्वास का तंज, कम से कम 'परिवार-संस्कार-सरोकार' जैसे शब्दों को तो...

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर तंज कसते हुए कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने कहा, कम से कम 'परिवार-संस्कार-सरोकार' जैसे शब्दों को तो बख्श दो अब.

अरविंद केजरीवाल पर कुमार विश्वास का तंज, कम से कम 'परिवार-संस्कार-सरोकार' जैसे शब्दों को तो...

कुमार विश्वास ने अरविंद केजरीवाल पर कसा तंज.

खास बातें

  • कुमार विश्वास ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर कसा तंज
  • कहा- 'परिवार-संस्कार-सरोकार' जैसे शब्दों को तो बख्श दो अब
  • पहले भी 'आप' सरकार और केजरीवाल पर हमलावर रहे हैं कुमार विश्वास
नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजीरवाल (Arvind Kejriwal) ने छह घंटे इंतजार के बाद नई दिल्ली विधानसभा सीट से परचा दाखिल किया. नामांकन के अंतिम दिन मंगलवार को दिल्ली स्थित जामनगर हाउस में स्थापित चुनाव कार्यालय में कम से कम 50 निर्दलीय प्रत्याशी भी नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए कतार में थे. आम आदमी पार्टी ने केजरीवाल को छह घंटे तक इंतजार को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर हमला बोला. 'आप' ने इसके लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि, 'बीजेपी वालों! चाहे जितनी साज़िश कर लो, अरविंद केजरीवाल को न नॉमिनेशन भरने से रोक पाओगे और न ही तीसरी बार दिल्ली का मुख्यमंत्री बनने से. तुम्हारी साज़िशें कामयाब नहीं होंगी.'
 


उधर, आप नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा, 'करीब 35 ऐसे उम्‍मीदवार रिटर्निंग ऑफिसर के ऑफिस में बैठे हैं जिनके पास जरूरी कागजात तक नहीं हैं. यहां तक कि उनके पास 10 प्रस्‍तावकों के नाम तक नहीं हैं. वो इस बात पर अड़े हैं कि जब तक उनके कागजों की जांच पूरी नहीं हो जाती और वो नामांकन दाखिल नहीं कर लेते, वो सीएम केजरीवाल को नामांकन दाखिल नहीं करने देंगे. इन लोगों के पीछे बीजेपी है.' 


सौरभ भारद्वाज के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए केजरीवाल ने कहा, कोई बात नहीं उनमें से कई पहली बार नॉमिनेशन फाइल कर रहे हैं. वे गलतियां करने के लिए बाध्य होते हैं. हमने भी पहली बार गलतियां कीं. मुझे इंतजार में मजा आ रहा है. वे मेरे परिवार का हिस्सा हैं. केजरीवाल के इस ट्वीट पर कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) का भी बयान आया.


कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, 'फ़ैमिली? जिस अन्ना को पिता कहा, जिस योगेंद्र यादव को बड़ा भाई कहा, जिस दोस्त को छोटा भाई कहा, उन सब के साथ जैसा षड्यंत्रकारी हत्यारों जैसा व्यवहार किया था, इन बेचारों के साथ भी वैसा ही व्यवहार करोगे क्या? कम से कम, 'परिवार-संस्कार-सरोकार' जैसे शब्दों को तो बख्श दो अब. दिल्ली में शनिवार, 8 फरवरी को मतदान होना है, और मतगणना, यानी चुनाव परिणाम मंगलवार, 11 फरवरी को घोषित किए जाएंगे.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com