दिल्‍ली दंगा मामला: ED ने की आरोपी ताहिर हुसैन के 6 ठिकानों पर छापेमारी

ED ने आरोपी ताहिर के खिलाफ मनी लांड्रिंग का मामला दर्ज किया है. उस पर दंगों में बड़े पैमाने पर फंडिंग का आरोपलगाया गया है. आरोप है कि ताहिर की कई सेल कंपनियां है. ED ने करीब डेढ़ महीने पहले ही PMLA के तहत केस रजिस्टर किया था.

दिल्‍ली दंगा मामला: ED ने की आरोपी ताहिर हुसैन के 6 ठिकानों पर छापेमारी

CAA विरोधी प्रदर्शन के बाद दिल्‍ली में बड़े पैमान पर हिंसा भड़क गई थी

नई दिल्ली:

Delhi Riots: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने देश की राजधानी में दिल्ली में इस वर्ष की शुरुआत में हुए दंगों के आरोपी ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) के 6 ठिकानों पर छापेमारी की है. ED ने ताहिर के खिलाफ मनी लांड्रिंग का मामला दर्ज किया है. उस पर दंगों में बड़े पैमाने पर फंडिंग का आरोपलगाया गया है. आरोप है कि ताहिर की कई सेल कंपनियां है. ED ने करीब डेढ़ महीने पहले ही PMLA के तहत केस रजिस्टर किया था, आरोप था कि फर्जी कंपनियों का इस्तेमाल कर करीब 1 करोड़ 16 लाख रुपये एन्टी CAA प्रोटेस्ट और दंगों के लिए कैश में फाइनेंस किया था. दिल्ली के जिन लोकेशंस पर छापेमारी की गई है, उसमें नार्थ ईस्ट दिल्ली के चार स्‍थान शामिल हैं. 

इस बीच, दिल्‍ली में दंगे और हिंसा के तहत 25 फरवरी को हुई अमन की हत्या की चार्जशीट में खुलासा किया गया है कि पुलिस ने जाफराबाद हिंसा में चलाई 108 गोलियां सूत्रों ने यह जानकारी दी. सूत्रों से प्राप्‍त जानकारी के अनुसार, पुलिस का दावा है कि बड़े पैमाने पर लोगों को बचाने और आत्मरक्षा में उसने "हवा में या संदिग्ध दंगाइयों के शरीर के निचले हिस्से" पर गोलीबारी की. जाफराबाद हिंसा मामले में पुलिस ने शाहरुख समेत 10 लोगों को आरोपी बनाया है. हालांकि अमन की हत्या में इस्तेमाल हुआ हथियार बरामद नहीं हुआ है और न ही यह साफ है कि अमन को गोली किसने मारी, लेकिन इनकी मोबाइल की लोकेशन और पुलिस ने जो वीडियो फुटेज खुद शूट किया था उसके आधार पर इन्हें गिरफ्तार किया गया है. 

पुलिस का दावा है कि ये लोग हिंसा और फायरिंग में शामिल थे. लोग फायरिंग कर रहे थे और कई गोलियां मेट्रो पिलर से टकराकर लोगों को लगीं. इस फायरिंग के दौरान अमन को भी गोली लगी और उसकी मौत हो गई. पुलिस और सीआरपीएफ के 33 गवाहों को शामिल किया गया है. इसके अनुसार, एक समुदाय से जुड़ी भीड़ मौजपुर की तरफ हिंसा करते हुए बढ़ रही थी जहां पहले से दूसरे समुदाय की भीड़ थी. पुलिस का दावा है कि उसने मौके से 7.65 मिमी के 11 कारतूस, 8 मिमी के सात कारतूस और 5.56 मिमी कैलिबर के 17 कारतूस बरामद किए. पुलिस ने अपनी इंसास राइफलों से जो 108 गोलियां चलाईं, वे 5.56 मिमी की थीं मौके से अब तक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज नहीं मिली है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com