NDTV Khabar

अरविंद केजरीवाल को नीचा दिखाने की कोशिश, खुद बीजेपी एमएलए की हो गई फजीहत

बीजेपी विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने अरविंद केजरीवाल के प्रति लोगों की धारणा को लेकर ट्विटर पर पोल कराया, नतीजे में खुद सिरसा बने हंसी के पात्र

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अरविंद केजरीवाल को नीचा दिखाने की कोशिश, खुद बीजेपी एमएलए की हो गई फजीहत

बीजेपी के विधायक मनजिंदर एस सिरसा की दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को नीचा दिखाने की कोशिश उल्टी पड़ गई.

खास बातें

  1. पूछा था- दिल्ली के दिल में केजरीवाल या दिल्ली का ठग केजरीवाल
  2. दिल्ली के दिल में केजरीवाल के विकल्प को 70 प्रतिशत वोट मिले
  3. सिरसा ने 'आप' पर सर्वेक्षण में धांधली करने का आरोप लगाया
नई दिल्ली:

बीजेपी के विधायक मनजिंदर एस सिरसा का दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को नीचा दिखाने की कोशिश 'बूमरेंग' साबित हुई. उन्होंने निशाना बनाया केजरीवाल को और खुद निशाना बनकर हंसी के पात्र बन गए.   

सिरसा ने ट्विटर पर एक सर्वेक्षण कराया जिसमें उन्होंने पूछा था कि लोग दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बारे में क्या सोचते हैं. उनका यह कदम उस समय उल्टा पड़ गया जब ज्यादातर प्रतिभागियों ने आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख केजरीवाल के पक्ष में वोट किया.

सिरसा ने ट्वीट कर कराए गए पोल में दो विकल्प रखे थे. पहला विकल्प था 'दिल्ली के दिल में केजरीवाल' और दूसरा विकल्प था 'दिल्ली का ठग केजरीवाल.' इसमें पहले विकल्प को 70 प्रतिशत और दूसरे विकल्प को 30 प्रतिशत वोट मिले.     

सिरसा पर तंज कसते हुए ‘आप' के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने बुधवार को कहा कि यह अच्छी बात है कि बीजेपी विधायक ने सर्वेक्षण कराया. इससे पता चलता है कि भगवा पार्टी के समर्थक भी अगले वर्ष होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप को वोट देना चाहते हैं.


अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को चुनाव में मिली हार के बताए दो कारण, कहा- इस वजह से नहीं मिला वोट

सिरसा के ‘ट्विटर पोल' से केजरीवाल का पक्ष ही मजबूत हुआ. सर्वेक्षण में शामिल हुए 70 प्रतिशत प्रतिभागियों ने मुख्यमंत्री केजरीवाल के पक्ष में वोट किया जबकि 30 प्रतिशत ने उनके खिलाफ वोट किया.

nffa4hoc

हालांकि, सिरसा ने दावा किया कि सर्वेक्षण में आप के कार्यकर्ताओं द्वारा धांधली की गई है. उन्होंने बुधवार को एक ट्वीट में कहा, ‘‘केजरीवाल के पक्ष में मतदान के लिए आप की आईटी सेल को बधाई. यदि यही जमीनी हकीकत होती तो आप को लोकसभा चुनावों में जीत मिलती.''

हाल में हुए लोकसभा चुनाव में आप को हार का सामना करना पड़ा है. पार्टी ने देशभर में 40 से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ा था जिनमें से उसे केवल एक सीट पर जीत मिली है. दिल्ली में आप के सभी सातों उम्मीदवारों को हार का सामना करना पड़ा.

VIDEO : क्या खिसक रही है 'आप' की सियासी जमीन

टिप्पणियां

दिल्ली में विधानसभा चुनाव अगले वर्ष की शुरूआत में होने की संभावना है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement