दिल्ली हिंसा को लेकर ओवैसी का मोदी सरकार पर हमला- 'सांसदों को बोलने से रोका नहीं जा सकता क्योंकि...'

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मंगलवार को लोकसभा में दिल्ली दंगों पर चर्चा का विरोध करने के लिए केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला.

दिल्ली हिंसा को लेकर ओवैसी का मोदी सरकार पर हमला- 'सांसदों को बोलने से रोका नहीं जा सकता क्योंकि...'

दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) का मोदी सरकार पर हमला.

खास बातें

  • दिल्ली हिंसा को लेकर मोदी सरकार पर असदुद्दीन ओवैसी का हमला
  • AIMIM प्रमुख ने कहा- सांसदों को बोलने से नहीं रोका जा सकता
  • दिल्ली हिंसा में 48 लोगों की मौत हो गई और 200 से ज्यादा घायल हुए
नई दिल्ली:

एआईएमआईएम (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मंगलवार को लोकसभा में दिल्ली दंगों पर चर्चा का विरोध करने के लिए केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि सांसदों को बोलने से रोका नहीं जा सकता. उनकी ये टिप्पणी तब आई है, जब एक दिन पहले ही उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला द्वारा बुलाई गई एक बैठक में हिस्सा लिया था. स्पीकर सदन को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए सभी दलों के साथ बातचीत करना चाहते थे, क्योंकि बजट सत्र के दूसरे चरण के पहले ही दिन दोनों सदनों में जमकर हंगामा हुआ था. ओवैसी ने ट्वीट की सीरीज जारी करते हुए कहा, 'मैंने स्पीकर द्वारा बुलाई गई सभी पार्टी मीटिंग में हिस्सा लिया. संसद में 2002 के गुजरात दंगों पर चर्चा हुई. अब सरकार दिल्ली में हुए नरसंहार पर चर्चा का विरोध कर रही है, क्योंकि इससे शांति भंग होगी.'
 


Delhi Violence: असदुद्दीन ओवैसी ने फिर साधा BJP पर निशाना, कहा इसे सांप्रदायिक हिंसा नहीं बल्कि....

उन्होंने आगे कहा कि बहस सदन के नियम और प्रक्रिया के तहत होती है. यदि कोई उनका उल्लंघन करता है तो उसे रिकॉर्ड से बाहर कर दिया जाना चाहिए. लेकिन सांसदों को बोलने से रोका नहीं जा सकता. प्रभावितों से मिलने जाने वाले प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा बनने के लिए मैं भी तैयार हूं.' उन्होंने जल्द से जल्द लोकसभा के उपसभापति की नियुक्त करने की भी मांग की. 

आज दिल्ली लुभा नहीं रही, डरा रही है - जाफराबाद-मौजपुर की आंखों देखी कहानी, रिपोर्टर की ज़ुबानी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

विपक्षी सदस्यों द्वारा इस मुद्दे पर हंगामे के बाद लोकसभा को कुछ घंटे के लिए स्थगित कर दिया गया. विपक्षी सदस्यों द्वारा दिल्ली में हुए दंगों पर बहस की मांग करने पर लोकसभा कई बार स्थगित की गई. इस हिंसा में 48 लोग मारे गए और 200 से ज्यादा घायल हुए हैं.

VIDEO: दिल्ली हिंसा : असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार की नीयत पर उठाए सवाल