Coronavirus: पीएम मोदी की अपील पर TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन का पलटवार, कहा- फिर क्यों चल रही है संसद?

टीएमसी सांसद ने अपने ट्वीट में कहा कि लोकतंत्र के मंदिर संसद भवन से क्या पीएम मोदी भारतवासियों को संबोधित नहीं कर सकते थे? एक पहले से रिकॉर्ड किया गया वीडियो मैसेज क्या सही है?

Coronavirus: पीएम मोदी की अपील पर TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन का पलटवार, कहा- फिर क्यों चल रही है संसद?

डेरेक ओ ब्रायन टीएमसी सांसद हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • पीएम मोदी ने किया है जनता कर्फ्यू का ऐलान
  • 22 मार्च सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक रहेगा कर्फ्यू
  • 22 मार्च सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक रहेगा कर्फ्यू
नई दिल्ली:

तृणमूल कांग्रेस (TMC) नेता डेरेक ओ ब्रायन (Derek O'Brien) ने ट्वीट करते हुए कहा, 'गुरुवार शाम प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस (Coronavirus) को रोकने के लिए एक बड़ा ऐलान किया है. 65 साल या उससे अधिक उम्र वाले लोग अपने घर से न निकलें. सरकार ने एडवाइजरी भी जारी की है. इस एडवाइजरी से मैं यह पूछना चाहता हूं कि तो फिर अभी तक संसद क्यों चल रही है?' डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि सरकार की सलाह है कि 65 साल से ज्यादा उम्र वाले लोग घर में ही रहें. साथ ही साथ इस सरकारी एडवाइजरी में रविवार को 'जनता कर्फ्यू' की भी बात कही गई है. वहीं दूसरी तरफ अभी भी हमारी देश की संसद क्यों चल रही है? आपको जानकारी के लिए बता दें कि राज्यसभा में 44 फीसदी सांसद और लोकसभा में 22 फीसदी सांसद 65 या उससे अधिक उम्र के हैं.

टीएमसी सांसद ने अपने ट्वीट में कहा कि लोकतंत्र के मंदिर संसद भवन से क्या पीएम मोदी भारतवासियों को संबोधित नहीं कर सकते थे? एक पहले से रिकॉर्ड किया गया वीडियो मैसेज क्या सही है? उन्होंने लिखा, 'कोरोना वायरस पर पीएम मोदी का यह पूरा संदेश समाधान पर कम और नौटंकी ज्यादा था.' कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने लोगों से अपील की है कि खासकर ऐसे लोग जिनकी उम्र 65 साल या उससे ज्यादा है, उन लोगों से निवेदन है कि आप घर में ही रहें. साथ ही उन्होंने पूरे देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का ऐलान किया और कहा कि अगर बेहद जरूरी काम हो तभी घर से बाहर निकलें वरना घर में ही रहें.

पीएम मोदी ने कोरोना वायरस को लेकर की थी अपील, अब जावेद अख्तर का आया ट्वीट

पीएम मोदी ने कहा कि इस संकट की घड़ी में सबसे जरूरी चीज है प्रत्येक भारतवासी सतर्क, सजक और सावधान रहे. आने वाले कुछ सप्ताह बेहद खास है और ऐसे समय में कोशिश करें, कम से कम घर से बाहर निकलने की. साथ ही उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए यह भी कहा कि रूटीन चेकअप के लिए अस्पताल जाने से बचें बल्कि कोशिश करें कि अपने फैमिली डॉक्टर को घर पर ही बुला लें, या आपने सर्जरी के लिए कोई तारीख ले रखी है तो उसे बढ़ाकर आगे की तारीख लें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: कोरोना वायरस को लेकर 22 मार्च को देश में 'जनता कर्फ्यू'