पंजाब के मुख्यमंत्री की अपील के बावूजद दूरसंचार टावरों को पहुंचाया जा रहा नुकसान, 176 और क्षतिग्रस्त

पंजाब के मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को प्रदर्शनकारी किसानों से इस प्रकार के कार्यों से आम लोगों को असुविधा नहीं पहुंचाने की अपील की. उन्होंने किसानों से कहा कि जिस संयम के साथ वे आंदोलन करते आयें हैं, उसे बरकरार रखें.

पंजाब के मुख्यमंत्री की अपील के बावूजद दूरसंचार टावरों को पहुंचाया जा रहा नुकसान, 176 और क्षतिग्रस्त

अब तक कुल 1,411 दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • पंजाब में विभिन्न स्थानों पर जियो के टावरों को नुकसान पहुंचाया गया
  • पिछले 24 घंटों में 176 दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचा है
  • मोबाइल टावरों को नुकसान पहुंचाने से दूरसंचार सेवाएं प्रभावित हुई हैं
चंंडीगढ़:

ऐसा लगता है कि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह की किसानों से मोबाइल टावर जैसी दूरसंचार क्षेत्र की ढांचागत सुविधाओं को नुकसान नहीं पहुंचाने की अपील का कोई असर नहीं हुआ है. उनके आग्रह के बावजूद पिछले 24 घंटे में 176 से अधिक दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया गया. सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी दी. दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाने के पीछे यह कहानी कही जा रही है कि नये कृषि कानूनों से मुकेश अंबानी और गौतम अडाणी जैसे उद्योगपतियों को लाभ होगा. इस आधार पर पंजाब में विभिन्न स्थानों पर रिलायंस जियो के टावरों को नुकसान पहुंचाया गया है जिससे दूरसंचार संपर्क व्यवस्था पर असर पड़ा. हालांकि, यह अलग बात है कि अंबानी और अडाणी से जुड़ी कंपनियां किसानों से अनाज नहीं खरीदती हैं.

अमरिंदर सिंह का अरविंद केजरीवाल पर एक और हमला, बताया - 'एक बड़ा फ्रॉड'

मामले से जुड़े दो सूत्रों ने कहा कि पिछले 24 घंटों में 176 दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचा है. इससे अब तक कुल 1,411 दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है. एक सूत्र ने बताया कि पंजाब के विभिन्न स्थानों से दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाये जाने की सूचना है. उसने बताया कि जिन दूरसंचार टावरों को नुकसान पहुंचाया गया है, उनमें से ज्यादातर जियो और दूरसंचार उद्योग के साझा बुनियादी ढांचा सुविधाओं से जुड़े हैं. सूत्रों ने कहा कि हमलों का असर दूरसंचार सेवाओं पर पड़ा है और परिचालकों को पुलिस की तरफ से कार्रवाई नहीं होने के कारण सेवाओं को बहाल करने में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.

बीजेपी नेताओं ने किसानों को बताया 'अर्बन नक्सल', अमरिंदर सिंह बोले- "Foolish"

पंजाब के मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को प्रदर्शनकारी किसानों से इस प्रकार के कार्यों से आम लोगों को असुविधा नहीं पहुंचाने की अपील की. उन्होंने किसानों से कहा कि जिस संयम के साथ वे आंदोलन करते आयें हैं, उसे बरकरार रखें. मुख्यमंत्री कार्यालय ने बयान में कहा था, ‘‘मुख्यमंत्री ने कोविड महामारी के बीच दूरसंचार संपर्क व्यवस्था को महत्वपूर्ण बताया और किसानों से आंदोलन के दौरान उसी तरह का अनुशासन और जिम्मेदारी दिखाने को कहा जिसे वह दिल्ली सीमा पर और पूर्व के विरोध-प्रदर्शन में दिखाते आये हैं.'' किसानों के कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन को एक महीना पूरा हो गया है.

मुख्यमंत्री की यह अपील टावर एंड इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोवाडर्स एसोसिएशन (टीएआईपीए) के आग्रह पर आयी है. दूरसंचार बुनियादी ढांचा प्रदाताओं के इस पंजीकृत संघ ने राज्य सरकार से किसानों को अपनी न्याय की लड़ाई में किसी भी गैरकानूनी गतिविधि का सहारा नहीं लेने को लेकर अनुरोध करने का आग्रह किया था.

Video: कुछ लोगों का आंदोलन से कोई लेना-देना नहीं होता : कैप्टन अमरिंदर सिंह


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)