राम मंदिर का निर्माण धर्माचार्य, जनता करेगी : विश्व हिन्दू परिषद

राम मंदिर का निर्माण धर्माचार्य, जनता करेगी : विश्व हिन्दू परिषद

मंदिर निर्माण के लिए लाई गई शिला

अयोध्या:

राम मंदिर मुद्दे के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'ठंडे रवैये' से परोक्ष रूप से नाराज विश्व हिंदू परिषद (विहिप) नेताओं ने कहा कि मंदिर का निर्माण धर्माचार्यों और जनता द्वारा किया जाएगा।

राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने कहा, ‘‘हम मोदी से निर्देश नहीं लेते। धर्माचार्य अपने विवेक का इस्तेमाल करते हैं।’’ महंत नृत्य गोपाल दास राम मंदिर के निर्माण को लेकर सक्रिय रूप से अभियान चला चुके हैं।

उन्होंने कहा कि यद्यपि उन्हें उम्मीद थी कि एक हिंदू पार्टी सरकार की वापसी के बाद मंदिर निर्माण के कार्य में तेजी आएगी लेकिन राजग नीत केंद्र ने ‘‘विहिप के अयोध्या आंदोलन में कोई रूचि नहीं ली।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए हमने बिना किसी मदद के अपने एजेंडा के साथ आगे बढ़ने का निर्णय किया है।’’ विहिप के एक अन्य वरिष्ठ नेता त्रिलोकी नाथ पांडेय ने दास के विचार का अनुमोदन किया।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पांडेय को इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने बाबरी मस्जिद भूमि का एक हिस्सा प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि विहिप ने मंदिर निर्माण में प्रधानमंत्री से किसी मदद की कोई उम्मीद नहीं की थी।

उन्होंने कहा कि मंदिर का निर्माण धर्माचार्यों एवं हिंदू जनता द्वारा किया जाएगा। विहिप द्वारा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिला एकत्रित करने का देशव्यापी अभियान घोषित करने के लगभग छह महीने बाद इस सप्ताह के शुरू में अयोध्या में दो ट्रक पत्थर आया है। वहीं पुलिस ने कहा है कि वह स्थिति की निगरानी कर रही है।