Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

पाकिस्तान के साथ युद्ध के सवाल पर जनरल रावत ने कहा, परिस्थिति पैदा होगी या नहीं इस पर...

शीर्ष जनरल तमिलनाडु के तंजावुर में सुखोई- 30 MKI की स्क्वाड्रन की तैनाती को लेकर आयोजित कार्यक्रम के दौरान भारत और पाकिस्तान के बीच किसी युद्ध की आशंका को लेकर पूछे गए एक सवाल का उत्तर दे रहे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान के साथ युद्ध के सवाल पर जनरल रावत ने कहा, परिस्थिति पैदा होगी या नहीं इस पर...

सेना के सभी अंग किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार: CDS बिपिन रावत

तंजावुर (तमिलनाडु):

प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (CDS) बिपिन रावत ने सोमवार को कहा कि यह पूर्वानुमान कठिन है कि पाकिस्तान के साथ किसी युद्ध की परिस्थिति उत्पन्न होगी या नहीं लेकिन सेना के सभी अंग किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं. शीर्ष जनरल तमिलनाडु के तंजावुर में सुखोई- 30 MKI की स्क्वाड्रन की तैनाती को लेकर आयोजित कार्यक्रम के दौरान भारत और पाकिस्तान के बीच किसी युद्ध की आशंका को लेकर पूछे गए एक सवाल का उत्तर दे रहे थे. उन्होंने कहा, "सेना के सभी अंगों को किसी भी उभरने वाली चुनौती के लिए तैयार रहने का काम सौंपा जाता है.  किसी परिदृश्य के उत्पन्न होने का पूर्वानुमान व्यक्त करना बहुत मुश्किल है. यद्यपि हम हमें दिये जाने वाले किसी भी कार्य के लिए हमेशा तैयार रहते हैं."

CDS बिपिन रावत की टिप्पणी पर भड़का पाकिस्तान, कहा- यह दिवालिया सोच को दर्शाता है...


जनरल रावत ने कहा कि उनकी नयी भूमिका का उद्देश्य रक्षा प्रणालियों और सेना के सभी अंगों (थलसेना, नौसेना और वायुसेना) में तालमेल बनाना है. उन्होंने कहा कि इसी कारण से CDS पद सृजित किया गया है. जनरल रावत को गत वर्ष 30 दिसम्बर को देश का पहला प्रमुख रक्षा अध्यक्ष नियुक्त किया गया था. उन्होंने कहा, "...हम बेहतर तालमेल की ओर बढ़ना जारी रखेंगे." यहां वायुसेना अड्डे को मजबूती प्रदान करने को लेकर वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने कहा कि यह (स्क्वाड्रन की तैनाती) दक्षिणी प्रायद्वीप की वायु रक्षा की भूमिका निभाएगा. 

असदुद्दीन ओवैसी ने CDS जनरल बिपिन रावत पर साधा निशाना - किस-किस को डी-रैडिकलाइज़ करेंगे?

टिप्पणियां

भारतीय वायुसेना ने यहां वायुसेना स्टेशन पर सुखोई-30 MKI के पहले स्क्वाड्रन को सेवा में शामिल किया. यह दक्षिण भारत में इन लड़ाकू विमानों के लिए पहला ऐसा अड्डा है. रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण हिंद महासागर क्षेत्र की रक्षा में सुखोई लड़ाकू विमानों की महत्वपूर्ण भूमिका मानी जा रही है. लड़ाकू विमान सुखोई 30 एमकेआई के स्क्वाड्रन 'टाइगरशार्क्स' को वायुसेना प्रमुख और शीर्ष अधिकारियों की मौजूदगी में सेवा में शामिल किया गया. ये विमान ब्रह्मोस क्रूज मिसाइलों से लैस हैं. 

Video: जनरल बिपिन रावत ने संभाला CDS का पद, तीनों सेनाओं की कमान होगी हाथों में



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... नवीन पटनायक द्वारा आयोजित भोज में साथ भोजन करते नजर आए अमित शाह और ममता बनर्जी

Advertisement