NDTV Khabar

बीजेपी और संघ के करीबी संत शंकराचार्य राजराजेश्वर की शरण में पहुंचे दिग्विजय सिंह

दिग्विजय ने कहा कि वह इन दोनों संगठनों की नीतियों के समर्थक नहीं हैं जो देश की राजनीति को धर्म के आधार पर विभाजित कर रहे हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी और संघ के करीबी संत शंकराचार्य राजराजेश्वर की शरण में पहुंचे दिग्विजय सिंह

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने हरिद्वार में संत शंकराचार्य राजराजेश्वर से मुलकात की.

खास बातें

  1. बांध विस्थापितों के मुद्दे पर नर्मदा यात्रा शुरू करेंगे सिंह
  2. यात्रा शुरू करने से पहले शंकराचार्य का आशीर्वाद लेने पहुंचे हरिद्वार
  3. दिग्विजय सिंह ने कहा- धर्मगुरुओं से मिलने में कोई बुराई नहीं
हरिद्वार:

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बुधवार को संघ व बीजेपी के करीबी संत शंकराचार्य राजराजेश्वर से उनके आश्रम में मुलाकात की. उन्होंने कहा कि वह इन दोनों संगठनों की नीतियों के समर्थक नहीं हैं जो देश की राजनीति को धर्म के आधार पर विभाजित करने का काम कर रहे हैं.

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह बांध से विस्थापित हुए लाखों लोगों के मुद्दे पर जनजागरण को लेकर नर्मदा यात्रा शुरू करने जा रहे हैं और इसे शुरू करने से पहले वे शंकराचार्य का आशीर्वाद लेने आए थे.

यह भी पढ़ें : शिवराज सिंह का जवाबी हमला, 'शर्म आती है कि दिग्विजय मध्यप्रदेश के हैं'


दिग्विजय सिंह ने कहा, 'धर्मगुरुओं से मिलने में कोई बुराई नहीं है. मैं हिंदू था, मैं हिंदू हूं और हिंदू ही रहूंगा. लेकिन मैं भाजपा या संघ की विचारधारा का समर्थन नहीं करता जो धर्म के आधार पर देश की राजनीति को विभाजित करने का काम कर रहे हैं.'

टिप्पणियां

VIDEO : फर्जी ट्वीट पर खिंचाई

अपने विवादास्पद बयानों के लिए मशहूर सिंह ने कहा कि योग गुरु बाबा रामदेव के गुरु शंकर देव का भी आज तक पता नहीं चला है. उन्होंने कहा कि हमने सीबीआई जांच की मांग की थी लेकिन उसका भी कोई नतीजा नहीं निकला. कांग्रेस नेता हरिद्वार के एक अखाड़े के प्रमुख संत महंत मोहन दास के लापता होने के बारे में पूछे गए एक सवाल पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे.
(इनपुट एजेंसियों से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement