लातूर में RTI कार्यकर्ता पर हमला करने वाले शिवसैनिकों को पार्टी ने किया बर्खास्त

लातूर में RTI कार्यकर्ता पर हमला करने वाले शिवसैनिकों को पार्टी ने किया बर्खास्त

लातूर पुलिस ने इस घटना के संबंध में 26 लोगों को हिरासत में लिया है

मुंबई:

शिवसेना की युवा सेना के प्रमुख आदित्य ठाकरे ने बताया कि लातूर के मराठवाड़ा क्षेत्र में आरटीआई (सूचना का अधिकार) कार्यकर्ता के मुंह पर कालिख पोतने वाले शिवसेना कार्यकर्ताओं को पार्टी ने बर्खास्त कर दिया है।

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ने ट्वीट किया, 'लातूर में दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बारे में सुना। पार्टी ऐसे शर्मनाक कृत्य की दृढ़ता से निंदा करती है। जो भी इसमें शामिल थे उन्हें पार्टी से हटा दिया गया है।'

हाल में पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी की किताब के विमोचन समारोह के आयोजक 'ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन' के अध्यक्ष सुधींद्र कुलकर्णी पर कालिख पोतने की हाई प्रोफाइल आपराधिक घटना के बाद शिवसेना कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार लातूर में आरटीआई कार्यकर्ता मल्लिकार्जुन भायकट्टी पर हमला किया और उनके चेहरे पर कालिख पोत दी।

स्थानीय शिक्षण संस्थान परिसर के निर्माण कार्य में कथित अनियमितताओं का खुलासा करने की धमकी देने के बाद शिवसेना कार्यकर्ताओं ने उन्हें बुरी तरह से पीटा और उनके चेहरे पर स्याही पोत दी। भायकट्टी ने आरटीआई से मिले जवाब के जरिये यह खुलासा किया था कि लातूर-नांदेड़ मार्ग पर चार मंजिली इमारत और लड़कों के छात्रावास के निर्माण में करीब 14,000 स्क्वायर फुट अवैध निर्माण किया गया।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


लातूर में शिवसेना कार्यकर्ता अभय सालुंखे ने भायकट्टी को एक 'ब्लैकमेल करने वाला' बताया और हमले को उचित ठहराया। घायल कार्यकर्ता को लातूर के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस बीच, लातूर पुलिस ने घटना के संबंध में 26 लोगों को हिरासत में लिया है।