शिवाजी को लेकर टिप्पणी करने वाले छिंदम पार्षद पद के लिए अयोग्य

महाराष्ट्र सरकार ने शिवाजी महाराज का अपमान करने के लिए अहमदनगर के पूर्व डिप्टी मेयर श्रीपद छिंदम को पार्षद पद के लिए अयोग्य घोषित कर दिया है.

शिवाजी को लेकर टिप्पणी करने वाले छिंदम पार्षद पद के लिए अयोग्य

ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद विवाद पैदा हो गया था

मुंबई:

महाराष्ट्र सरकार ने शिवाजी महाराज का अपमान करने के लिए अहमदनगर के पूर्व डिप्टी मेयर श्रीपद छिंदम को पार्षद पद के लिए अयोग्य घोषित कर दिया है. एक वरिष्ठ मंत्री ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. छिंदम ने 2018 में छत्रपति शिवाजी महाराज के बारे में एक आपत्तिजनक बयान दिया था जिसका ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद विवाद उत्पन्न हो गया था.  बाद में भाजपा ने उन्हें पार्टी से बर्खास्त कर दिया. वे निर्दलीय नगर निकाय चुनाव जीत कर फिर से चुन लिए गए. 

छत्रपति शिवाजी की जयंती पर उद्धव ठाकरे ने दी श्रद्धांजलि, बोले- उनकी विरासत आगे ले जाने के लिए प्रतिबद्ध

शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा, "शिवाजी महाराज को महाराष्ट्र में देव तुल्य माना जाता है. सरकार महाराज के आदर्शों के अनुसार काम करती है. छिंदम ने शिवाजी महाराज का अपमान किया था. इसलिए उन्हें अयोग्य ठहराया गया."

घुसपैठियों के प्रति न तो मेरी नीति बदली और न ही मेरा झंडा बदला : राज ठाकरे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

शिवसेना नेता ने कहा कि अहमदनगर नगर निगम ने उनकी अयोग्यता के बारे में एक प्रस्ताव पारित किया था. वह प्रस्ताव मेरे पास फैसला लेने के लिए आया था. जो कोई भी शिवाजी महाराज का अपमान करता है उसे जनप्रतिनिधि बने रहने का कोई अधिकार नहीं है. 

Video: संजय राउत ने वापस लिया 'इंदिरा गांधी और करीम लाला की मुलाकात' वाला बयान