मुख्तार अंसारी के ठिकाने पर योगी सरकार का बुल्डोजर, गाजीपुर में जमींदोज हुई बिल्डिंग

ये होटल मुख्तार अंसारी की पत्नी और बेटो के नाम से गाज़ीपुर के महुआबाग में संचालित हो रहा था.  जिला प्रशासन के अधिकारी सुबह ही दल-बल के साथ ग़ज़ल होटल को गिराने बुल्डोजर लेकर पहुंच गए थे.

मुख्तार अंसारी के ठिकाने पर योगी सरकार का बुल्डोजर, गाजीपुर में जमींदोज हुई बिल्डिंग

होटल ग़ज़ल मुख्तार अंसारी की पत्नी और बेटो के नाम से गाज़ीपुर के महुआबाग में संचालित हो रहा था.

गाजीपुर:

उत्तर प्रदेश के मऊ से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के गाजीपुर स्थित होटल पर आज सुबह योगी सरकार का बुल्डोजर चला. ये होटल मुख्तार अंसारी की पत्नी और बेटो के नाम से गाज़ीपुर के महुआबाग में संचालित हो रहा था.  जिला प्रशासन के अधिकारी सुबह ही दल-बल के साथ ग़ज़ल होटल को गिराने बुल्डोजर लेकर पहुंच गए थे. प्रशासनिक अधिकारियों और भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में होटल के दूसरे तल, सीढ़ी और अन्य अतिक्रमण के हिस्से को ध्वस्त कर दिया गया.

इससे पहले, शनिवार की देर शाम जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आठ सदस्यीय बोर्ड ने मुख्तार के दोनों बेटों की अपील खारिज कर दिया था. इसके बाद होटल को गिराए जाने की प्रक्रिया रविवार की सुबह शुरू हो गई. देर रात में ही प्रसाशनिक अधिकारियों और राजस्व टीम की मौजूदगी में सीमांकन का कार्य शुरू कर दिया गया था. इस वजह से इलाके में पूरी रात अफरा तफरी का माहौल बना रहा. सुबह होते ही प्रशासनिक अधिकारियों, भारी पुलिस फोर्स और पीएसी का जमावड़ा शुरू हो गया था.

Newsbeep

प्रशासन ने होटल ढाहने के लिए पांच पोकलैंड मशीनें मंगवाई थी. बता दें कि बीते 8 अक्टूबर को ही गजल होटल को ध्वस्त करने का आदेश उप जिलाधिकारी प्रभास कुमार ने दिया था. एसडीएम कोर्ट द्वारा होटल के दूसरे तल, सीढ़ी तथा अवैध हिस्से को गिराने का आदेश दिया गया था. इसके बाद होटल संचालक ने एसडीएम के आदेश के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी, जिसके बाद कोर्ट ने संचालक को डीएम कोर्ट में अपील करने का आदेश दिया था. बाद में डीएम की अध्यक्षता वाले बोर्ड ने एसडीएम के आदेश को बरकरार रखते हुए अपील खारिज कर दी थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


होटल ध्वस्त करते समय एडीएम राजेश कुमार के अलावा सदर एसडीएम प्रभास कुमार, जखनियां एसडीएम सूरज यादव, अतिरिक्त एसडीएम, एसपी सिटी गोपी नाथ सोनी, सीओ सिटी ओजस्वी चावला, महमूद अली समेत भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद था.