सोनिया गांधी का केंद्र पर वार- खतरे में है अभिव्यक्ति की आजादी, वे चाहते हैं अपना मुंह बंद रखे देश

सोनिया गांधी ने कहा, "महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और बीआर अंबेडकर समेत हमारे किसी भी महापुरुष ने यह कल्पना नहीं की होगी कि आजादी के 75 साल बाद देश इतनी मुश्किल का सामना करेगा.

सोनिया गांधी का केंद्र पर वार- खतरे में है अभिव्यक्ति की आजादी, वे चाहते हैं अपना मुंह बंद रखे देश

विभाजकारी ताकतें देश में नफरत फैला रही हैं : सोनिया गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार का नाम लिए बिना उन पर निशाना साधा. सोनिया गांधी ने  कहा कि विभाजकारी ताकतें देश में नफरत फैला रही हैं, अभिव्यक्ति की आजादी दांव पर है यानी अभिव्यक्ति की आजादी खतरे में है और हमारे किसी पूर्वज ने नहीं सोचा होगी कि देश कभी इस तरह के संकट में आएगा. बता दें कि सोनिया गांधी पिछले कुछ दिनों से लगातार सरकार पर विभिन्न मुद्दों को लेकर निशाना साध रही हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए भवन के भूमि पूजन कार्यक्रम में कहा, "लोगों को लड़ाने वाली ताकतें देश में नफरत का जहर फैला रही हैं. अभिव्यक्ति की आजादी खतरे में है, लोकतंत्र नष्ट हो रहा है. वे चाहते हैं कि देश के लोग, हमारे आदिवासी, महिलाएं, युवा अपना मुंह बंद रखें. वो देश का मुंह बंद रखना चाहते हैं." 

सोनिया गांधी ने आगे कहा, "महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और बीआर अंबेडकर समेत हमारे किसी भी महापुरुष ने यह कल्पना नहीं की होगी कि आजादी के 75 साल बाद हमारा देश इतनी मुश्किल का सामना करेगा. जब हमारा लोकतंत्र और संविधान खतरे में होगा." 

कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार का नाम लिए बिना निशाना साधा. सोनिया इससे पहले, राज्यों का जीएसटी बकाया और कोरोना वायरस संकट के दौरान NEET-JEE की परीक्षाएं आयोजित करने को लेकर सरकार पर हमला बोल चुकी हैं. 

Newsbeep

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया कि देश की लोकशाही में पर "तानाशाही" का प्रभाव बढ़ रहा है. गांधी ने कहा, "बुरी सोच अब हावी हो रही है, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता खतरे में है और लोकतांत्रिक संस्थाएं बर्बाद हो रही हैं." 

वीडियो: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, "सरकारी खर्च में हो कटौती"

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com