Delhi की सेक्स वर्कर्स के हाथों से सजे दीपक बेचे जाएंगे, दिल्ली पुलिस और डीएलएसए की मुहिम

दिल्ली विधिक सेवा प्राधिकरण (DLSA) और दिल्ली पुलिस ने सेक्स वर्कर्स (Sex Worker) को आत्मनिर्भर बनाने के लिए नई मुहिम शुरू की है.

Delhi की सेक्स वर्कर्स के हाथों से सजे दीपक बेचे जाएंगे, दिल्ली पुलिस और डीएलएसए की मुहिम

Delhi सेक्स वर्करों के सजाए दीयों की दीपावली के दौरान बिक्री होगी.

खास बातें

  • दिल्ली विधिक सेवा प्राधिकरण की अनोखी पहल से जुड़ीं सेक्स वर्कर
  • डीएलएसए और दिल्ली पुलिस की ओर से आयोजित कार्यशाला
  • दिल्ली के GB रोड पर 2000 से ज्यादा सेक्स वर्कर्स रहती हैं
नई दिल्ली :

दिल्ली विधिक सेवा प्राधिकरण (DLSA) और दिल्ली पुलिस ने सेक्स वर्कर्स (Sex Worker) को आत्मनिर्भर बनाने के लिए नई मुहिम शुरू की है. इसके तहत दीपावली (Deepawali) में Delhi की सेक्स वर्कर्स के हाथों से सजे दीये बेचे जाएंगे.दिल्ली के रेड लाइट एरिया GB रोड पर तकरीबन 2000 से ज्यादा सेक्स वर्कर्स काम करती हैं. इनका जीवनयापन देह व्यापार से होता है. दिल्ली विधिक सेवा प्राधिकरण और कमला मार्किट पुलिस की प्रेरणा से देह व्यापार के दलदल में फंसी तकरीबन 200 महिलाओं ने जिस्म के इस व्यापार को छोड़ने का साहस दिखाया है.

इसके लिए कानून और पुलिस ने मिलकर एक कार्यशाला की शुरुआत की है. इस कार्यशाला में जहां DLSA इनको वापिस सभ्य समाज में लाने के लिए कानूनी मदद देगा. वहीं दिल्ली पुलिस इनको जीवन यापन के गुर सिखाएगी. अब कमला मार्किट पुलिस इनको रंग-बिरंगे दिए सजाना सिखा रही है. दिल्ली पुलिस इनके द्वारा तैयार किए सामान की खरीदार ख़ुद बनेगी. ताकि इनको प्रोत्साहित किया जा सके और इनको देह व्यापार से हटा कर आत्मनिर्भर बनाया जा सके.

दिल्ली विधिक सेवा प्राधिकरण DLSA के तरफ के जज और वकील भी आगे आए हैं. जज गौतम मनन ने कहा कि समाज द्वारा शोषित उपेक्षित इन महिलाओं को न्यायिक प्रकिया के अंतर्गत अपने अधिकारों को पाने के लिए सहायता पा सकती है. इसके लिए रेड लाइट एरिया में तीन दिन का शिविर आयोजित किया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com