NH 24 पर बेटी को खोने के बाद ट्रैफिक संभालने वाली डॉरिस कैंसर के आगे हुईं मजबूर

NH 24 पर बेटी को खोने के बाद ट्रैफिक संभालने वाली डॉरिस कैंसर के आगे हुईं मजबूर

डॉरिस फ्रांसिस कैंसर से पीड़ित हैं...

खास बातें

  • NH 24 पर बेटी को तेज रफ्तार कार ने मार दी थी टक्कर
  • बेटी की मौत के बाद NH 24 पर ट्रैफिक संभालने लगीं
  • कैंसर से पीड़ित डॉरिस फ्रांसिस की आर्थिक हालत ठीक नहीं है.
नई दिल्ली:

57 साल की डॉरिस फ्रांसिस कैंसर से पीड़ित हैं और एम्स में भर्ती हैं. आज वह खुद को मजबूर महसूस कर रही हैं. इससे पूर्व सड़क दुर्घटना में बेटी को खो देने के बावजूद वह हारी नहीं थीं, बल्कि दूसरों के साथ ऐसा न हो इसके लिए खुद NH 24 पर ट्रैफिक कंट्रोल करती थीं.

अब उन्हें जैसे कैंसर ने मजबूर बना दिया है. घर की आर्थिक स्थिति खराब है और कैंसर का महंगा इलाज करवाने में दिक्कत आ रही है.

Newsbeep

वर्ष 2009 में NH 24 पर डॉरिस की बेटी को तेज रफ्तार से आती एक कार ने टक्कर मार दी थी, जिसके बाद उसकी मौत हो गई. डॉरिस को लगा कि ट्रैफिक नियमों का अगर सही पालन हो तो सड़क दुर्घटनाओं को रोका जा सकता है. उसके बाद वह खुद घर के पास एनएच 24 पर ट्रैफिक का संचालन करने लगीं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


डॉरिस को उनके साहसिक काम के लिए बहुत से पुरस्कारों से नवाज़ा गया पर उनके बुरे वक़्त में कोई मदद को आगे नहीं आ रहा. बेटा ऑटो चलता है तो बड़ी मुश्किल से घर चलता है. डॉरिस ने 7 साल सड़क पर दूसरों के लिए खड़े होकर प्रदूषण की मार झेली. डॉक्टरों की मानें तो उनके कैंसर की वजह प्रदूषण नहीं है पर उसको बढ़ाने में एक कारक ज़रूर है. नौबत घर बेचने तक आ गई है. बेटे ने मां के इलाज के लिए अपनी नई मोटरसाइकिल 20000 में बेच दी है, लेकिन रोज़ गुजरने वाले लोग डॉरिस की जगह खड़े ट्रैफिक पुलिस वाले से ज़रूर पूछते हैं, अरे वह मैडम कहां गईं?