NDTV Khabar

सचान की मृत्यु प्रथम दृष्ट्या आत्महत्या : यूपी सरकार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. सिंह ने कहा, डाक्टर सचान के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मृत्यु अत्यधिक खून बहने की वजह से हुई।'
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश सरकार ने परिवार कल्याण विभाग के मुख्य चिकित्साधिकारी (सीएमओ) डॉक्टर बीपी सिंह हत्याकांड के मुख्य अभियुक्त डिप्टी सीएमओ डाक्टर वाईएस सचान की जिला जेल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत को प्रथम दृष्ट्या आत्महत्या का मामला बताते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि मामले की न्यायिक जांच हो रही है जिसके बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकेगा। प्रदेश के मंत्रिमण्डलीय सचिव शशांक शेखर सिंह ने कहा डाक्टर सचान के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मृत्यु अत्यधिक खून बहने की वजह से हुई। साथ ही मृत्यु के एक दिन के अंदर ही पोस्टमार्टम हुआ। प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या का मामला लगता है। उन्होंने बताया, मृतक के शरीर पर कुल नौ चोटें हैं जिनमें आठ चोटें धारदार हथियारों से हुई हैं। इनमें से दो गर्दन पर, दो दाईं कोहनी पर, दो बाई कोहनी पर, एक दाई जांच के ऊपरी हिस्से और एक बाईं कलाई पर थी। इसके अलावा गले में फंदे का निशान भी पाया गया। सिंह ने बताया कि ऐसा लगता है कि मौत से पहले सचान ने अपनी नसें काटी थीं। मौके पर एक बहुत तेज ब्लेड भी मिला है जिसे कब्जे में ले लिया गया है। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सचान की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। कानून के मुताबिक न्यायिक मजिस्ट्रेट ने जांच शुरू कर दी है। गौरतलब है कि सीएमओ बीपी सिंह हत्याकांड के मुख्य आरोपी डाक्टर सचान कल रात जिला जेल के अस्पताल के शौचालय में संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाए गए थे।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement