VIDEO: पुलिस देख भाग रहा था BJP नेता का हत्यारोपी, साथी ने तेज कर दी बाइक, लुढ़क पड़ा दो शार्प शूटर

नॉर्थ कोलकाता से 20 किलोमीटर दूर टीटागढ़ में 4 अक्टूबर को अपराधियों ने मनीष शुक्ला की उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वह पुलिस थाने के नजदीक ही पार्टी कार्यकर्ताओं और आमजनों को संबोधित कर रहे थे.

VIDEO: पुलिस देख भाग रहा था BJP नेता का हत्यारोपी, साथी ने तेज कर दी बाइक, लुढ़क पड़ा दो शार्प शूटर

स्थानीय लोगों ने लुटेरों पकड़कर पहले तो चप्पलों से पिटाई कर दी फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया.

कोलकाता:

पंजाब के लुधियाना में पुलिस ने दो शार्प शूटर को गिरफ्तार किया है. ये लोग पुलिस को देखकर बाइक पर सवार हो भाग रहे थे, तभी उसके साथी ने बाइक की स्पीड इतनी तेज कर दी कि दो आरोपी नीचे सड़क पर लुढ़क गया जबकि तीसरा भागने में कामयाब रहा. लोगों ने उसे पकड़कर पहले तो चप्पलों से पिटाई कर दी फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया. पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में 4 अक्टूबर को हुई बीजेपी नेता मनीष शुक्ला की हत्या में इनकी तलाश थी.

पंजाब पुलिस ने जब उनसे पूछताछ की तो उसके तार पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेता मनीष शुक्ला की हत्या से जुड़ते नजर आए. अपराध को अंजाम देने के बाद ये लोग वहां से भागने में कामयाब रहे थे और आकर लुधियाना में रह रहे थे. लुधियाना में ये लोग एक मोहल्ले में लूट की वारदात को अंजाम देकर भागने की फिराक में थे, तभी लोगों ने उसे पकड़ने की कोशिश की. इसी बीच पुलिस को आता देख तीनों भागने लगे लेकिन नाटकीय अंदाज में दो हत्थे चढ़ गया.

बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता का शव पेड़ से लटकता मिला, तृणमूल पर लगाया हत्या का आरोप

पश्चिम बंगाल सीआईडी की टीम ने उन दोनों को पंजाब पुलिस से रिमांड पर लेकर शुक्रवार को बैरकपुर की जिला अदालत में पेश किया, जहां से उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.  पीटीआई को पुलिस अधिकारी ने बताया कि ये दोनों उस गैंग के गुर्गे हैं, जिसने मनीष शुक्ला की हत्या की है. अधिकारी ने कहा, "वारदात के बाद हमलोग इनकी तलाश में दबिश दे रहे थे, यहां तक कि बिहार में भी छापेमारी की थी लेकिन ये लोग पंजाब भागने में कामयाब रहे थे." पुलिस अधिकारी के मुताबिक बीजेपी नेता की हत्या के मामले में अब तक तीन लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. 

पश्चिम बंगाल में निष्पक्ष चुनाव के लिए वहां राष्ट्रपति शासन लगाना होगा: विजयवर्गीय

Newsbeep

बता दें कि नॉर्थ कोलकाता से 20 किलोमीटर दूर टीटागढ़ में 4 अक्टूबर को अपराधियों ने मनीष शुक्ला की उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वह पुलिस थाने के नजदीक ही पार्टी कार्यकर्ताओं और आमजनों को संबोधित कर रहे थे.

वीडियो: मध्यप्रदेश उपचुनाव : कमलनाथ को EC से झटका

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com