‘शराब पीने से मर जाएगा कोरोनावायरस’ वाले बयान पर राजस्‍थान के कांग्रेस विधायक की सफाई, बताया व्यंग्य

खत के वायरल हो जाने के बाद स्पष्टीकरण देते हुए विधायक ने कहा कि एल्कोहल की मदद से गले में पहुंचे कोरोनावायरस को खत्म कर देने वाली उनकी टिप्पणी व्यंग्य के तौर पर कही गई थी.

‘शराब पीने से मर जाएगा कोरोनावायरस’ वाले बयान पर राजस्‍थान के कांग्रेस विधायक की सफाई, बताया व्यंग्य

कांग्रेस विधायक का सीएम अशोक गहलोत को लिखा पत्र लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है

जयपुर:

Coronavirus Pandemic: कोरोनावायरस और उससे होने वाले रोग COVID-19 का प्रकोप देशभर में जारी है, जिसके चलते लॉकडाउन किया गया है. इसी लॉकडाउन के बीच राजस्‍थान (Rajasthan) के कांग्रेस विधायक भरत सिंह कुंदनपुर (Bharat Singh Kundanpur) ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को एक खत लिखा, जो चर्चा का विषय बन गया. इस खत में सांगोद से विधायक भरत सिंह कुंदनपुर ने राज्‍य में शराब की दुकानों को खोल देने का आग्रह किया है. हालांकि खत के वायरल हो जाने के बाद स्पष्टीकरण देते हुए विधायक ने कहा कि एल्कोहल की मदद से गले में पहुंचे कोरोनावायरस को खत्म कर देने वाली उनकी टिप्पणी व्यंग्य के तौर पर कही गई थी.

खत में विधायक ने लिखा था, "जब हाथ में पहुंच गए कोरोनावायरस को एल्‍कोहल (सेनिटाइज़र) से खत्‍म किया जा सकता है, तो एल्‍कोहल पी लेने से निश्चित रूप से गले में पहुंच गए वायरस को भी मारा जा सकेगा..." 30 अप्रैल को लिखे इस पत्र में उन्‍होंने लिखा था कि COVID-19 के मद्देनज़र जारी लॉकडाउन के कारण शराब की दुकानें बंद हैं, जिसके चलते अवैध और ज़हरीली शराब का धंधा तेज़ी से पनप रहा है. दुकानें बंद होने से एक ओर जहां राजस्व की हानि हो रही है, वहीं ज़हरीली शराब की वजह से पीने वालों के स्‍वास्‍थ्‍य को भी खतरा है. अपने पत्र में उन्‍होंने आगे लिखा था कि राजस्‍थान सरकार ने वर्ष 2020-21में शराब से 12,500 करोड़ रुपये प्राप्‍त करने का लक्ष्‍य रखा है, जो लॉकडाउन के रहते पूरा होता नहीं दिख रहा. ऐसे में बेहतर होगा कि सरकार शराब की दुकानों को खोल दे, जिससे न सिर्फ शराब पीने वालों को शराब मिल सकेगी, बल्कि सरकार को राजस्‍व भी मिलेगा.

बाद में स्पष्टीकरण देते हुए भरत सिंह कुंदनपुर ने कहा, "असली समस्या सिर्फ राजस्व की हानि नहीं है, बल्कि गैरकानूनी शराब के धंधे का तेज़ी से पनपना है, जिसमें बड़ी मात्रा में यूरिया का इस्तेमाल किया जा रहा है, जो बेहद नुकसानदायक और खतरनाक है, और दुर्भाग्य यह है कि गरीब तबका इस शराब को पी रहा है..."

VIDEO: रैपिड टेस्टिंग किट चीन को वापस करेगा भारत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com