NDTV Khabar

पंजाबः मां की हत्या कर फरार हुआ ड्रग एडिक्ट युवक, पुलिस ने शुरू की मामले की जांच

पुलिस अधीक्षक मंजीत सिंह ने कहा कि आरोपी सतविंदर सिंह ने अपनी मां पर कुदाल से हमला किया था.इस हमले वह बुरी तरह से घायल हो गई और उनकी मौत हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पंजाबः मां की हत्या कर फरार हुआ ड्रग एडिक्ट युवक, पुलिस ने शुरू की मामले की जांच

पंजाब के मोगा में मां की हत्या कर फरार हुआ बेटा

खास बातें

  1. मृतक की पहचान करमजीत कौर के रूप में हुई है
  2. महिला को कई गहरी चोटें आईं और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया
  3. आरोपी सतविंदर सिंह स्वीडन में रह रहा था, लेकिन वह लौट आया था
चंड़ीगढ़:

पंजाब के मोगा जिले से रिश्तों को शर्मसार करने वाले एक घटना सामने आई हैं. मोगा के हिम्मतपुर गांव में एक युवक ने अपनी मां की हत्या कर मौके से फरार हो गया है. पुलिस को घटना की जानकारी दी गई है. पुलिस फिलहाल आरोपी की तलाश कर रही है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि एक ड्रग एडिक्ट ने शुक्रवार सुबह अपनी मां की कथित तौर पर हत्या कर दी है. मृतक की पहचान करमजीत कौर के रूप में हुई है. पुलिस के अनुसार, हमले में महिला को कई गहरी चोटें आईं और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया. पुलिस ने आरोपी युवक की पहचान सतविंदर सिंह के रूप में की है. पुलिस अधीक्षक मंजीत सिंह ने कहा कि शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी सतविंदर सिंह स्वीडन में रह रहा था, लेकिन वह हाल के महीनों में यहां लौट आया था. वह मानसिक तनाव में था और उसने अपनी मां पर कुदाल से हमला किया.'

पंजाब: दुकान का लाइसेंस रद्द किया तो ऑफिस में घुसकर महिला ड्रग इंस्पेक्टर को मारी गोली


वहीं, पुलिस की शुरुआती पूछताछ में  स्थानीय लोगों ने बताया कि करमजीत कौर एक विधवा थीं और उन्होंने सतविंदर को काम के लिए स्वीडन भेजने के लिए पैसे जुटाने के लिए अपने घर को गिरवी रख दिया था. आरोपी पिछले महीने स्वीडन से लौटा था और उसने वहां ड्रग्स लेना शुरू कर दिया था. खास बात यह है कि सतविंदर के छोटे भाई वरिंदर सिंह ने पुलिस को पहले ही इस बात की सूचना दी थी कि सतविंदर मां की हत्या कर सकता है, बावजूद इसके पुलिस इस हत्या को नहीं रोक पाई. पुलिस ने फिलहाल आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज मामले की जांच शुरू कर दी है. 

पंजाब में ड्रग तस्करों की अब खैर नहीं, मौत की सजा के लिए CM अमरिंदर ने राजनाथ को लिखा पत्र

बता दें कि पंजाब में ड्रग समस्या एक प्रमुख चुनावी मुद्दा रहा है. इस साल की शुरुआत में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा था कि उनकी सरकार राज्य में नशीली दवाओं के दुरुपयोग को रोकने के लिए कड़े कदम उठा रही है. उन्होंने कहा था कि 28,000 से अधिक ड्रग पैडलर्स को विशेष टास्क फोर्स की मदद से गिरफ्तार किया गया है. उस दौरान उन्होंने दावा किया था कि 'प्रवर्तन और उपचार' की दोहरी पहल से ड्रग की लत को खत्म किया जा रहा है. पंजाब में पिछले ढाई साल में अधिक मात्रा में ड्रग लेने के चलते 160 से अधिक लोगों की मौत हुई है. 

VIDEO: पंजाब में नशे से जूझ रहे हैं युवा.

टिप्पणियां



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement