NDTV Khabar

ड्रग रैकेट में शामिल पंजाब पुलिस का इंस्पेक्टर गिरफ्तार, ऐसे कमाता था रुपया

फगवाड़ा में उनके क्वार्टर से 4 किलो हेरोइन और 3 किलो स्मैक बरामद की गई है. साथ ही जालंधर में उनके घर से 9 एमएम की इटैलियन पिस्टल, एक एके-47 और 400 ज़िंदा कारतूस बरामद किए गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. वह जहां गया ड्रग्स खेप की बरामदगी बढ़ी
  2. आरोपियों के केस को कमजोर बनाता था
  3. ​खेप का एक हिस्सा अपने पास रखता था
चंडीगढ़:

पंजाब में ड्रग रैकेट में शामिल पंजाब पुलिस के एक इंस्पेक्टर इंद्रजीत सिंह को गिरफ्तार किया गया है. देर रात कोर्ट ने उन्हें 19 जून तक पुलिस रिमांड में भेज दिया. फगवाड़ा में उनके क्वार्टर से 4 किलो हेरोइन और 3 किलो स्मैक बरामद की गई है. साथ ही जालंधर में उनके घर से 9 एमएम की इटैलियन पिस्टल, एक एके-47 और 400 ज़िंदा कारतूस बरामद किए गए हैं. 16.50 लाख कैश और 3550 ब्रिटिश पाउंड और एक कार भी जब्त की गई है.

एसटीएफ के एडीजी के मुताबिक़- इंद्रजीत सिंह के सर्विस रिकॉर्ड से पता चला कि वह जहां भी गए वहां ड्रग्स खेप की बरामदगी बढ़ी. तरनतारन में पोस्टिंग के दौरान उन्होंने 13 बार ड्रग की बड़ी खेप बरामद की. बावजूद उसके कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया. जून में यह मामला IG बॉर्डर ज़ोन और तरतारन के एसएसपी को भेजा गया, जिसके बाद ख़ुलासा हुआ कि इंस्पेक्टर बरामदगी के बाद ड्रग का एक हिस्सा अपने पास रख लेता था. इसके साथ ही वह अपने पास रखे नशीले पदार्थ उन्हीं तस्करों को बेच देता था और अपना मोटा कमीशन रखता था. आरोपियों का मुंह बंद करने के लिए उन्हें जल्द रिहा कराने का वादा करता था. जाहिर है उन पर केस इस तरह का बनाया जाता था कि आरोपियों की रिहाई जल्द हो जाती थी.

टिप्पणियां


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement