Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आचार संहिता की वजह से महात्मा गांधी की जयंती पर जल्दी नहीं रिहा हो पाएंगे महाराष्ट्र के 70 कैदी

भारत की विभिन्न जेलों में सजा काट रहे सैंकड़ों कैदियों को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर रिहा किया जाएगा लेकिन जल्दी रिहा किए जाने के योग्य महाराष्ट्र के 70 कैदियों को बाहर आने के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है.

आचार संहिता की वजह से महात्मा गांधी की जयंती पर जल्दी नहीं रिहा हो पाएंगे महाराष्ट्र के 70 कैदी

प्रतीकात्मक तस्वीर

पुणे:

भारत की विभिन्न जेलों में सजा काट रहे सैंकड़ों कैदियों को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर रिहा किया जाएगा लेकिन जल्दी रिहा किए जाने के योग्य महाराष्ट्र के 70 कैदियों को बाहर आने के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है. दरअसल राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लगी हुई है और इसके तहत सरकार कोई बड़ा फैसला नहीं ले सकती है.

महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर बीजेपी के मंत्री, सांसद और विधायक शुरू करेंगे पदयात्रा

महाराष्ट्र के राज्य कारागार विभाग के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि 119 कैदियों को रिहा करने का प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा गया था जिन्हें आतंकवाद, हत्या, दुष्कर्म जैसे गंभीर मामलों में दोषी करार नहीं दिया गया है.

जब अंधेरी तूफानी रात में लालटेन की रोशनी में हुआ महात्मा गांधी का ऑपरेशन

इनमें से 70 कैदियों के नाम का चयन जल्दी रिहा करने के लिए किया गया. अधिकारी ने बताया कि राज्य में आचार संहिता लागू होने की वजह से गांधी जयंती पर कैदियों को रिहा करने का आदेश सरकार नहीं दे सकती है.

Video: क्या बढ़ी है गांधी विरोधियों की ताकत?



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)