Delhi Earthquake: दिल्ली-NCR,जम्मू कश्मीर सहित उत्तर भारत के कई शहरों में भूकंप के झटके

Delhi Earthquake: दिल्ली-एनसीआर में मंगलवार शाम को भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किए गए. भूकंप (Earthquake) का केंद्र लाहौर से 173 किमी दूर था. वहीं इसकी तीव्रता 6.3 मापी गई.

खास बातें

  • लाहौर से 173 किमी दूर भूकंप का केंद्र
  • भूकंप की तीव्रता 6.3 मापी गई
  • जम्मू कश्मीर में भूकंप के तेज़ झटके
नई दिल्ली:

Earthquake in Delhi: दिल्ली-एनसीआर  (Delhi-NCR) सहित उत्तर भारत के कई शहरों में मंगलवार शाम को भूकंप (Earthquake)  के झटके महसूस किए गए. भूकंप (Earthquake) का केंद्र लाहौर से 173 किमी दूर था. वहीं इसकी तीव्रता 6.3 मापी गई. उधर, जम्मू कश्मीर, पंजाब, हरियाणा में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि भूकंप का झटका शाम 4 बजकर 31 मिनट पर महसूस किया गया. बता दें पाकिस्तान के इस्लामाबाद, पेशावर, रावलपिंडी और लाहौर सहित कुछ शहरों में भी भूकंप के झटके महूसस किए गए. पाकिस्तान में भूकंप से काफी नुकसान होने की खबरें आ रही हैं. ARY न्यूज के अनुसार पाकिस्तान के जालटान में कई जगहों पर सड़के धंस गईं हैं और दो हिस्सों में बंट गई है. 

पाकिस्तान मौसम विभाग के भूकंप केंद्र ने बताया कि भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.8 मापी गई. भूकंप का केंद्र जमीन से 10 किलोमीटर की गहराई में स्थित था. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि भूकंप का झटका जोरदार था और लोग दहशत में इमारतों से बाहर निकल आए. 'दुनिया टीवी' की खबर के अनुसार भूकंप के बाद एक इमारत ढहने से महिलाओं तथा बच्चों समेत 50 लोगों को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के मीरपुर ले जाया गया है.

मालूम हो कि अक्‍टूबर 2015 में पाकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान में आए भूकंप में भारी तबाही मची थी. इस भूकंप में तकरीबन 400 लोगों की जानें गईं थीं. रिएक्‍टर स्‍केल पर इसकी तीव्रता 7.5 थी. अक्‍टूबर 2005 में पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर में आए भूकंप में भारी तबाही मची थी जिसमें हजारों लोगों की जान चली गई थी.

Newsbeep

उधर, बीते 10 सितंबर को हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में 10 घंटे के भीतर भूकंप के चार झटके महसूस किये गए थे. शिमला मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया था कि भूकंप दोपहर 12 बजकर 10 मिनट से लेकर रात 9 बजकर 27 मिनट के बीच महसूस हुए. उनकी तीव्रता 2.7 से लेकर 5 के बीच थी. भूकंप का पहला झटका दोपहर 12 बजकर 10 मिनट पर आया जिसकी तीव्रता 5.0 थी. दूसरा झटका दोपहर 12 बजकर 40 मिनट पर आया जिसकी तीव्रता 3.2 दर्ज की गयी और तीसरा झटका दोपहर 12 बजकर 50 मिनट पर आया जिसकी तीव्रता 2.7 थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भूकंप आने पर क्या करें
1. अगर भूकंप के वक्त आप घर में हो तो फर्श पर बैठ जाएं.
2. घर में किसी मजबूत टेबल या फर्नीचर के नीचे बैठकर हाथ से सिर और चेहरे को ढकें.
3. भूकंप के झटके आने तक घर के अंदर ही रहें और झटके रुकने के बाद ही बाहर निकलें.
4. अगर रात में भूकंप आया है और आप बिस्तर पर लेटे हैं हैं तो लेटे रहें, तकिए से सिर ढक लें.  
5. अगर आप भूकंप के दौरान मलबे के नीचे दब जाएं तो किसी रुमाल या कपड़े से मुंह को ढंके.
6. मलबे के नीचे खुद की मौजूदगी को जताने के लिए पाइप या दीवार को ठकठकाते रहें, ताकि बचाव दल आपको तलाश सके.
7. अगर आपके पास कुछ ना हो तो चिल्लाते रहे हैं और हिम्मत ना हारें.