UPA के शासनकाल में एयर इंडिया के लिए 111 विमानों के सौदे में पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम को ED का समन

UPA के शासनकाल के दौरान एयर इंडिया के लिए किए गए 111 विमानों के सौदे के सिलसिले में कांग्रेस नेता तथा पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम को जांच एजेंसी ने शुक्रवार को पेश होने के लिए समन भेजा है.

खास बातें

  • कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम को ED का समन
  • ED ने पूर्व वित्त मंत्री को शुक्रवार को पेश होने के लिए कहा
  • UPA शासनकाल में एयर इंडिया के लिए 111 विमानों के सौदे का मामला
नई दिल्ली:

UPA के शासनकाल के दौरान एयर इंडिया के लिए किए गए 111 विमानों के सौदे के सिलसिले में कांग्रेस नेता तथा पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम को जांच एजेंसी ने शुक्रवार को पेश होने के लिए समन भेजा है. बता दें कि एयर इंडिया और इंडियन एयरलाइंस के विवादास्पद विलय समेत यूपीए सरकार के दौरान के कम से कम 4 सौदों में अनियमितताओं और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जांच के लिए कई आपराधिक मामले दर्ज किए गए थे. यह मामले अक्टूबर 2018 में दर्ज हुए थे.

कर्नाटक में कैबिनेट विस्तार कल, बीएस येदियुरप्पा बोले- अमित भाई से मिलेगी फाइनल लिस्ट

Newsbeep

आरोप है कि विदेशी विमान विनिर्माण कंपनियों को फायदा पहुंचाने के वास्ते सरकारी कंपनियों के लिए 70,000 करोड़ रुपये के 111 विमान खरीदे गए थे. जांच एजेंसी ने आरोप लगाया था, 'ऐसी खरीददारी से पहले से ही संकट से गुजर रही सरकारी विमानन कंपनी को कथित वित्तीय नुकसान हुआ.' CAG ने 2011 में सरकार के 2006 में करीब 70,000 करोड़ रुपये में एयर इंडिया और इंडियन एयरलाइंस के लिए एयरबस और बोइंग से 111 विमान खरीदने के फैसले के औचित्य पर सवाल उठाया था.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: आईएनएक्स मीडिया से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में चिदंबरम से हुई पूछताछ