NDTV Khabar

NDTV पर सीबीआई छापों को लेकर एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया का बयान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NDTV पर सीबीआई छापों को लेकर एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया का बयान
5 जून, 2017

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया

प्रेस रिलीज

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया सीबीआई द्वारा NDTV के दफ्तरों और उसके प्रमोटर्स पर आज की गई छापेमारी पर गहरी चिंता जताता है. पुलिस और अन्य एजेंसियों की मीडिया ऑफिस में एंट्री बहुत ही गंभीर मामला है. NDTV ने विभिन्न बयानों में किसी भी तरह की गड़बड़ी से इनकार किया है. NDTV ने छापेमारी को न्यूज चैनल का "सुनियोजित उत्पीड़न" करने तथा "लोकतंत्र और स्वतंत्र आवाज़" को कुचलने तथा "मीडिया की आवाज़ दबाने" का प्रयास करार दिया है. यद्यपि, एडिटर्स गिल्ड का मानना है कि कोई भी व्यक्ति या संस्थान कानून से ऊपर नहीं है लेकिन मीडिया का मुंह बंद करने के प्रयास की भी निंदा करता है और सीबीआई से नियत कानूनी प्रक्रिया का अनुपालन करने तथा यह सुनिश्चित करने का आग्रह करता है कि न्यूज ऑपरेशंस के स्वतंत्र संचालन में किसी भी तरह का हस्तक्षेप न हो.

राज चेंगप्पा, अध्यक्ष

प्रकाश दुबे, महासचिव 

कल्याणी शंकर, कोषाध्यक्ष