NDTV Khabar

एडिटर्स गिल्ड ने कहा- कन्नड़ पत्रकार की हत्या प्रेस की आजादी पर क्रूर हमला

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की कड़ी निंदा की और इस घटना की न्यायिक जांच कराने की मांग की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एडिटर्स गिल्ड ने कहा- कन्नड़ पत्रकार की हत्या प्रेस की आजादी पर क्रूर हमला

गौरी लंकेश (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा- हिंदुत्व राजनीति की मुखर आलोचक थीं गौरी लंकेश
  2. मुख्य मुद्दों पर निर्भीक होकर अपने विचार रखती रहीं
  3. लोकतंत्र में असंतोष लोगों के लिए अशुभ संकेत
नई दिल्ली:

द एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की आज ‘‘कड़ी निंदा’’ की और इस घटना की न्यायिक जांच कराने की मांग की.

हिंदुत्व राजनीति की मुखर आलोचक रही गौरी कन्नड़ पत्रिका ‘गौरी लंकेश पत्रिका’ के साथ-साथ अन्य पत्र-पत्रिकाओं में मुख्य मुद्दों पर ‘‘निर्भीक’’ होकर अपने विचार रखती रही हैं. वह इस पत्रिका का संपादन भी करती थीं.

यह भी पढ़ें : गौरी लंकेश हत्‍या: जावेद अख्‍तर ने कहा, 'अगर कुछ तरह के ही लोग मर रहे हैं तो कौन मार रहा है...'

एडिटर्स गिल्ड ने एक बयान में कहा, ‘‘द एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया गौरी लंकेश की हत्या से काफी स्तब्ध है और इसकी कड़ी निंदा करती है. उनकी हत्या लोकतंत्र में असंतोष लोगों के लिए अशुभ संकेत है और प्रेस की आजादी पर क्रूर हमला है.’’ संस्था यह मांग करती है कि कर्नाटक सरकार हत्या की न्यायिक जांच गठित करने के अलावा दोषियों को पकड़ने के लिए तत्परता से कार्रवाई करें.


टिप्पणियां

VIDEO : निष्पक्ष जांच की मांग

55 वर्षीय कन्नड़ पत्रकार की कल बेंगलुरू के राज राजेश्वरी नगर में उनके घर के गेट पर अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी.
(इनपुट  एजेंसियों से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement