असम में भी दिखा 'ब्लू व्हेल चैलेंज' का असर, छात्र ने की आत्महत्या की कोशिश

दिन-ब-दिन पहले से ज़्यादा खतरनाक साबित हो रहे मोबाइल गेम 'ब्लू व्हेल चैलेंज' का 'हमला' पूर्वोत्तर भारत के असम में भी हो गया.

असम में भी दिखा 'ब्लू व्हेल चैलेंज' का असर, छात्र ने की आत्महत्या की कोशिश

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  • 'ब्लू व्हेल चैलेंज' का 'हमला' पूर्वोत्तर भारत के असम में भी हो गया
  • छात्र ने इमारत के टॉप फ्लोर से कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की
  • दुनिया में इस गेम के कारण करीब सौ लोगों की मौत हो चुकी है
कचार:

दिन-ब-दिन पहले से ज़्यादा खतरनाक साबित हो रहे मोबाइल गेम 'ब्लू व्हेल चैलेंज' का 'हमला' पूर्वोत्तर भारत के असम में भी हो गया, जब कॉलेज में पढ़ने वाले एक छात्र ने एक इमारत के टॉप फ्लोर से कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की. कचार जिले से सिलचर में एक इमारत के टॉप फ्लोर से कूदने वाला यह छात्र सेकंड ईयर में पढ़ता है और आत्महत्या की कोशिश के पीछे कथित रूप से 'ब्लू व्हेल चैलेंज' ही वजह है. फिलहाल छात्र को अस्पताल में दाखिल करवाया गया है, जहां उसकी हालत स्थिर है.

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में भी 'ब्‍लू व्‍हेल' गेम से मौत, ट्रेन के सामने खड़े होने का छात्र ने लिया चैलेंज, गई जान

ऑनलाइन गेम ब्लू व्हेल चैलेंज कई देशों के लिए समस्या बन गया है. संदेह है कि यह ऑनलाइन चैलेंज रूस से शुरू किया गया है. दुनिया में इस गेम के कारण करीब सौ लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में भी ऑनलाइन गेम ब्लू व्हेल के कारण कई लोगों की जान जा चुकी है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: 'ब्लू व्हेल' का शिकार होते-होते बचा एक बच्चा
बता दें कि ब्लू व्हेल चैलेंज गेम में यूजर्स को सोशल मीडिया के जरिए 50 दिन में कुछ चैलेंज को पूरा करने के टास्क दिए जाते हैं जिसमें अंतिम टास्क में यूजर्स को सुसाइड जैसा चैलेंज दिया जाता है.