NDTV Khabar

चुनाव आयोग : MP, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान, 11 दिसंबर को काउंटिंग

चुनाव आयोग ने MP, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम चुनाव के लिए किया तारीखों का ऐलान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चुनाव आयोग : MP, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान, 11 दिसंबर को काउंटिंग

चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस

चुनाव आयोग ने आज मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम में विधानसभा चुनावों के लिए तारीखों की घोषणा कर दी है.  मध्य प्रदेश में 28 नवंबर, राजस्थान और तेलंगाना में 7 दिसंबर, छत्तीसगढ़ में 13 नवंबर और 20 नवंबर और मिजोर में 28 नवंबर को चुनाव होगा. हालांकि, सभी राज्यों के नतीजे 11 दिसंबर को ही आएंगे. तेलंगाना में भी विधानसभा चुनावों के लिये तारीखों की घोषणा किये जाने की प्रबल संभावना थी. आयोग के सूत्रों ने कहा था कि समूची चुनावी प्रक्रिया दिसंबर के पहले हफ्ते तक खत्म हो जाएगी. सूत्रों ने खबर दी थी कि छत्तीसगढ़ में चुनाव दो चरणों में होने की उम्मीद है जबकि बाकी जगहों पर एक दौर में चुनाव हो सकते हैं. आज चुनाव आयोग के ऐलान के बाद सभी चुनावी राज्यों में  आचार संहिता लागू हो गई. बहरहाल, मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ समेत अन्य राज्यों में चुनावी माहौल पहले से ही गर्म है. राजनीतिक दल मतदाताओं को लुभाने और जोड़-तोड़ में जुटे हुए हैं. चुनावी सभाएं और रैलियां आदि आयोजित की जा रही हैं. 
 

Election Commission Press conference Live Updates:



कर्नाटक के शिमोगा, बेल्लारी, और मांड्या में 3 नवंबर को होंगे उपचुनाव.


- चुनाव आयुक्त ने कहा कि हमारे ऊपर किसी भी प्रकार का कोई दबाव नहीं है. हम सोशल मीडिया की निगरानी करेंगे  और लोकसभा से पहले सोशल मीडिया की निगरानी के लिए पूरा तंत्र तैयार हो जाएगा. 

- मध्य प्रदेश , राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना विधानसभा चुनाव की काउंटिंग 11 दिसंबर को होगी.

 


- 11 दिसंबर को वोटों की गिनती

-चुनाव आयोग ने पाचों राज्यों में होने वाले चुनाव की तारीखों का ऐलान किया-

 

  • मध्य प्रदेश: 28 नवंबर को मतदान
  • राजस्थान- 7 दिसंबर को मतदान
  • छत्तीसगढ़- 12 नवबंर को पहला चरण और 20 नवंबर को दूसरा चरण
  • तेलंगाना - 7 दिसंबर को मतदान
  • मिजोरम - 28 नवंबर को मतदान


- मिजोरम में 28 नवंबर को वोटिंग. मध्य प्रदेश में 28 नवंबर को वोटिंग. मध्य प्रदेश में एक दौर में ही मतदान होगा. 
 


-  चुनाव आयोग ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पहले चरण की वोटिंग 12 नवंबर को होगी. 

- चुनाव आयोग ने कहा कि तेलंगाना में अभी चुनाव नहीं होंगे. तेलंगाना में 12 अक्टूबर के बाद चुनाव की तारीखों का ऐलान होगा. 

चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने यह भी कहा कि आज से ही तत्काल प्रभाव से चारों राज्यों में आचार संहिता लागू हो जाएगी. 

 

-  चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा कि  मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम में 15 दिसंबर के पहले चुनाव करा लिए जाएंगे. 
 



- चुनाव आयोग ने कहा - MP, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम में होंगे एक साथ विधानसभा चुनाव, तेलंगाना में मतदादा सूची प्रकाशन 12 को 

- चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू हो चुकी है, पांच राज्यो में होने वाले चुनाव की तारीखों का ऐलान आज हो सकता है

-चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू, जल्द तारीखों का ऐलान

बता दें कि इससे पहले चुनाव आयोग आज यानी शनिवार को मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मिजोरम विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा करने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाला है. पहले खबर थी कि चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस का समय दोपहर 12:30 बजे करेगा, मगर बाद में इस समय को आगे बढ़ा दिया और अब चुनाव आयोग दोपहर 3.00 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुनाव की तारीखों का ऐलान करेगा. मगर इसी घटना को लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग की स्वतंत्रता पर सवाल उठाया है. आगामी चुनाव तारीखों के ऐलान के समय में फेरबदल पर कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं.  सुरजेवाला का मानना है कि यह फेरबदल पीएम मोदी के कार्यक्रम की वजह से किया गया है. दरअसल, आज राजस्थान में पीएम मोदी की एक जनसभा है. पीएम मोदी राजस्थान के अजमेर में एक रैली को संबोधित करने वाले हैं. राजस्थान विधानसभा चुनाव से पूर्व पीएम मोदी की होने वाली इस रैली को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट में लिखा कि 'चुनाव आयोग ने पांच राज्यों की चुनावी तारीख के लिए 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी. राजस्थान के अजमेर में दोपहर 1 बजे पीएम मोदी की रैली है. चुनाव आयोग ने अचानक वक्त बदल दिया है और प्रेस कॉन्फ्रेंस 3 बजे होगी. चुनाव आयोग की स्वतंत्रता?' हालांकि, चुनाव आयोग की ओर से अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि आखिर चुनाव तारीखों के ऐलान के समय में यह बदलाव क्यों किया गया.

 


No more content
टिप्पणिया

Advertisement