NDTV Khabar

ईवीएम छेड़छाड़ : सभी राजनीतिक दलों के साथ 12 मई को बैठक करेगा चुनाव आयोग

200 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ईवीएम छेड़छाड़ : सभी राजनीतिक दलों के साथ 12 मई को बैठक करेगा चुनाव आयोग

ईवीएम मशीन.

खास बातें

  1. विश्वसनीयता पर उठे सवालों के मुद्दे को लेकर
  2. बैठक में वह सभी दलों को यह समझाने की कोशिश
  3. ईवीएम पूरी तरह विश्वसनीय है
नई दिल्ली: चुनाव आयोग इलेक्ट्रिॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वसनीयता पर उठे सवालों के मुद्दे को लेकर सभी राजनीतिक दलों के साथ 12 मई को बैठक करेगा. देश के 16 विपक्षी दलों ने इस संबंध में सवाल खड़े किए हैं. ईवीएम को लेकर सवाल उठाने वाले राजनीतिक दलों को अपनी बात साबित करने के लिए मई के मई के आखिरी हफ्ते में मौका मिल सकता है क्‍योंकि चुनाव आयोग ने तभी EVM हैकाथॉन आयोजित करने का निर्णय किया है. इस सिलसिले में आयोग 12 मई को सर्वदलीय बैठक बुलाएगा जिसमें राजनीतिक पार्टियों से हैकाथॉन के लिये लोगों को नामित करने को कहा जायेगा. साथ ही चुनौती के नियम भी बताए जाएंगे.

आयोग का कहना है कि इस बैठक में वह सभी दलों को यह समझाने की कोशिश करेगा कि ईवीएम पूरी तरह विश्वसनीय है और इसके साथ छेड़छाड़ नहीं की जा सकती. चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने 29 अप्रैल को चंडीगढ़ में संवाददाताओं से कहा था, ‘‘हम जल्द ही सभी दलों के साथ एक बैठक करेंगे, जिसमें दलों को बताया जाएगा कि हमारी प्रशासनिक और तकनीकी सुरक्षा प्रणाली के चलते ईवीएम छेड़छाड़ रोधी और सुरक्षित है.

वह कई विपक्षी दलों द्वारा ईवीएम में छेड़छाड़ के आरोपों के बारे में उठाए गए सवालों का जवाब दे रहे थे. हाल ही में 16 विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग से चुनाव में पुन: मतपत्र प्रणाली के उपयोग की ओर लौटने का आग्रह किया था. विपक्षी दलों का कहना था कि लोगों का ईवीएम में विश्वास घटा है. इस बैठक के लिए सात राष्ट्रीय दलों और 49 राज्यस्तरीय दलों को बुलाया जाएगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement