मुंबई में अतिक्रमण न करने की चेतावनी का गणेश पंडालों पर असर नहीं

मुंबई में अतिक्रमण न करने की चेतावनी का गणेश पंडालों पर असर नहीं

मुंबई:

गणपति उत्सव में अभी एक महीना बाकी है, पर मुंबई में तैयारियां शुरू हो गई हैं। हर साल की तरह बीएमसी ने पंडालों की व्यवस्था से संबंधित एक सूचनावली जारी की है। हाईकोर्ट के आदेश का पालन करते हुए पंडालों को सड़क या फुटपाथ पर अतिक्रमण न करने की हिदायत दी गई है।

गणपति पंडाल उत्सव की तैयारी में जुटे हैं, बीएमसी ने पंडालों से साफ-सफाई और सुरक्षा पर ध्यान देने की अपील की है और साथ ही हाईकोर्ट का आदेश मानते हुए सड़क पर पंडाल नहीं डालने की हिदायत दी है। पंडालों का दावा है कि वो कोर्ट के आदेश का पालन करेंगे।

नरेश दहिभाउकर, अध्यक्ष समन्वय समिति, का कहना है कि सभी पंडाल कोर्ट के आदेश का पूरी तरह से पालन करेंगें। लेकिन हकीकत इन दावों से अलग है। सड़क पर पंडाल बनाए जा रहे हैं। कहीं-कहीं तो पंडाल आधे से ज्यादा सड़क को घेरे हुए हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

कई पंडालों का दावा है कि उनके पास हर तरह के निर्माण की अनुमति है और वो हर साल की तरह ही पंडाल बांधेंगे।
कई पंडाल लगाए गए तो अधिकृत जमीन पर हैं पर पंडाल से जुड़े बाकी निर्माण जैसे स्वागत कक्ष आदि सड़क या फुटपाथ पर किए गए हैं।

किरण तावड़े, अध्यक्ष गणेश गल्ली मुंबई चा राजा पंडाल का कहना है कि पहले से ऐसे ही पंडाल बनाते आ रहे हैं और कभी किसी को कोई तकलीफ नहीं हुई। इस साल भी हम इसी तरह पंडाल बांधेंगे। सफाई, सुरक्षा और बाकी मुद्दों पर पंडाल, बीएमसी और कोर्ट एकमत हैं, लेकिन सड़क पर अतिक्रमण के मुद्दे पर गणपति पंडाल और कोर्ट आमने-सामने खड़े नज़र आ रहे हैं।