यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को ED ने किया गिरफ्तार, DHFL को दिया था 3000 करोड़ का 'बैड' लोन!

इससे पहले Yes बैंक के संस्थापक राणा कपूर को प्रवर्तन निदेशालय पूछताछ के लिए अपने दफ़्तर ले गया था.

खास बातें

  • ईडी ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को गिरफ्तार कर लिया है
  • ईडी ने कपूर के ठिकानों पर छापे मारे और पूछताछ की थी
  • यस बैंक आर्थिक संकट से गुजर रहा है
मुंबई :

प्रवर्तन निदेशालय ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को गिरफ्तार कर लिया है. इससे पहले राणा कपूर को प्रवर्तन निदेशालय पूछताछ के लिए अपने दफ़्तर ले गया था. ED ने मुंबई स्थित राणा कपूर के घर पर छापा मारा था. इस दौरान यस बैंक से जुड़े दस्तावेज़ खंगाले गए. सूत्रों के मुताबिक ईडी ने शुरुआती जांच में ये पता लगाया है कि यस  बैंक ने DHFL को क़रीब 3 हज़ार करोड़ का बैड लोन दिया था. राणा कपूर और DHFL के बीच संबंध का पता लगाने की भी कोशिश की जा रही है. आरोप है कि कर्ज के बदले में कपूर की पत्नी के खातों में कथित तौर पर रिश्वत की रकम भेजी गई थी. एजेंसी अन्य कथित अनियमितताओं की भी जांच कर रही है.

कांग्रेस ने यस बैंक में जमा भगवान जगन्नाथ के कोष की सुरक्षा पर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मांगी सफाई

बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शनिवार को यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर से लगातार दूसरे दिन पूछताछ की थी. यह पूछताछ उनके और कुछ अन्य लोगों से जुड़े धन शोधन के एक मामले में की गई. इसके अलावा दिल्ली और मुंबई में कुछ और स्थानों पर छापे भी मारे गए. अधिकारियों ने बताया कि कपूर को शनिवार दोपहर में बालार्ड एस्टेट स्थित एजेंसी के कार्यालय लाया गया. ईडी ने धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत कपूर से सात घंटे पूछताछ कर बयान दर्ज किया है. इसके अलावा और अधिक जानकारी एवं सबूत जुटाने के लिए कपूर की तीन बेटियों के दिल्ली और मुंबई स्थित परिसरों पर शनिवार को छापे भी मारे.

कर्नाटक : नकदी निकलवाने के लिए जूझते नजर आए Yes बैंक के ग्राहक

प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार रात वर्ली इलाके में 'समुद्र महल' परिसर में राणा के आवास की तलाशी ली थी और उससे वहां भी सख्त सवाल जवाब किए गए. अधिकारियों ने कहा कि कपूर के खिलाफ मामला घोटाले से प्रभावित डीएचएफएल से जुड़ा हुआ है, क्योंकि बैंक द्वारा कंपनी को दिया गया कर्ज कथित रूप से गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) घोषित कर दिया गया है.

SBI ने Yes बैंक में निवेश की इच्छा जताई, बैंक की पुनर्गठन योजना में लेगा भागीदारी

डीएचएफएल द्वारा एक कंपनी को 600 करोड़ रुपये का ऋण देना भी ईडी की जांच के दायरे में है. कपूर के खिलाफ पीएमएलए के प्रावधानों के तहत कार्रवाई की गयी है. केंद्रीय जांच एजेंसी कुछ कारपोरेट संस्थाओं को दिए गए ऋण और कथित रूप से रिश्वत के रूप में कुछ धनराशि कपूर की पत्नी के खातों में जमा किये जाने के संबंध में राणा की भूमिका की जांच भी कर रही है.

(भाषा से इनपुट के साथ) 

Video: यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर से ED की पूछताछ

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com