बस्ती पुलिस का 'सिंघम स्टाइल', हाथों में ऑटोमेटिक हथियार लेकर ऐसे निकले जैसे...देखें- VIDEO

बस्ती जिले का एक वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में बस्ती पुलिस की स्वाट टीम के सदस्य फिल्मी अंदाज में हाथ में ऑटोमैटिक हथियार लहराते नजर आ रहे हैं.

बस्ती पुलिस का 'सिंघम स्टाइल', हाथों में ऑटोमेटिक हथियार लेकर ऐसे निकले जैसे...देखें- VIDEO

Basti Police Viral Video: वीडियो वायरल होने के बाद पूरी स्वाट टीम को हटा दिया गया है.

खास बातें

  • बस्ती पुलिस की स्वाट टीम का वीडियो वायरल
  • ऑटोमेटिक हथियारों की नुमाइश करते दिख रहे हैं पुलिसकर्मी
  • वीडियो वायरल होने के बाद पूरी स्वाट टीम पर गिरी गाज
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में जारी धड़ाधड़ एनकाउंटर के बीच बस्ती जिले का एक वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में बस्ती पुलिस की स्वाट टीम के सदस्य फिल्मी अंदाज में हाथ में ऑटोमैटिक हथियार लहराते नजर आ रहे हैं. वीडियो में पीछे एक गाना भी बज रहा है और ऐसा लग रहा है कि यह किसी एनकाउंटर सीन का हिस्सा है. देखते-देखते स्वाट टीम का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. इसके बाद पुलिस महके में हड़कंप मच गया. इसके बाद उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह  के आदेश पर पूरी SWAT टीम का ट्रांसफर कर दिया गया है. वायरल वीडियो में बस्ती पुलिस की SWAT टीम के सदस्य हथियारों की खुलेआम नुमाइश करते नजर आ रहे हैं.

कहा जा रहा है कि वीडियो में इस टीम की सिंघम स्टाइल में अगुवाई करते दिख रहे कोई और नहीं खुद स्वाट प्रभारी विक्रम सिंह हैं. वीडियो में कुल पांच लोग नजर आ रहे हैं, जिसमें सबसे आगे विक्रम सिंह हैं. उनके हाथ में पिस्टल नजर आ रही है. वहीं तीन अन्य पुलिस कर्मियों के हाथ में भी पिस्टल है और एक पुलिस कर्मी के हाथ में कथित तौर पर एके-47 है. वीडियो में दिख रहा है कि टीम को लीड कर रहे इंस्पेक्टर फिल्मी अंदाज़ में बाकी लोगों को हथियारों के साथ इधर-उधर जाने का निर्देश दे रहे हैं. 

 आगरा के सिपाही की जान लेने वाला बदमाश गिरफ्तार, सिर पर था 25 हजार का इनाम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बस्ती की स्वाट टीम का सिंघम स्टाइल में वीडियो वायरल होने के बाद डीजीपी ओपी सिंह ने इसका संज्ञान लिया. यूपी पुलिस ने ट्वीट कर कहा कि, 'डीजीपी के निर्देश पर बस्ती पुलिस की पूरी स्वाट टीम का ट्रांसफर कर दिया गया है और उन्हें पुलिस लाइन से संबद्ध किया गया है. इस मामले की जांच सीओ सिटी को सौंपी गई है. इस तरह हथियारों की नुमाइश और गैर पेशेवर रवैया कतई स्वीकार नहीं है.'