कोविड-19 का इलाज करने वाले प्राइवेट अस्पताल नहीं ले पाएंगे अधिक चार्ज, केंद्र सरकार ने राज्यों से गाइडलाइन जारी करने का दिया आदेश

पिछले काफी समय से इस बात की शिकायतें आ रही हैं कि कोरोना का एलाज करने वाले प्राइवेट अस्पताल या फिर हेल्थकेयर सेंटर्स मरीजों से मनमाना रकम वसूल रहे हैं.

कोविड-19 का इलाज करने वाले प्राइवेट अस्पताल नहीं ले पाएंगे अधिक चार्ज, केंद्र सरकार ने राज्यों से गाइडलाइन जारी करने का दिया आदेश

कोरोना का इलाज करने वाले अस्पतालों के चार्ज को लेकर गाइडलाइन जारी करने का दिया आदेश

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा कि कोरोना को लेकर वो सुनिश्चित करें कि निजी अस्पताल/हेल्थ केयर सेंटर्स मरीजों से उचित चार्ज  लें. पिछले काफी समय से इस बात की शिकायतें आ रही हैं कि कोरोना का इलाज करने वाले प्राइवेट अस्पताल या फिर हेल्थकेयर सेंटर्स मरीजों से मनमाना रकम वसूल रहे हैं.  जिसके बाद केंद्र ने राज्यों से कहा कि वो इस बात को सुनिश्चित करें कि उनके यहां प्राइवेट अस्पताल वाज़िब चार्ज लें. केंद्र ने ये भी कहा है कि एक बार जब रेट तय हो तो उसे सार्वजनिक किया जाय जिससे किसी तरह की कंफ्यूजन न हो.

इसके अलावा केंद्र सरकार ने ये भी कहा है कि राज्य सरकार सरकारें प्राइवेट संस्थानों के साथ मिलकर ICU, बेड्स वेंटिलेटर्स ,ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड्स जैसी सुविधाएं बढाने पर ज़ोर दें. गौरतलब है कि दुनियाभर के तमाम देशों के साथ-साथ भारत में भी कोरोनावायरस (COVID-19) का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में इस वायरस से संक्रमितों की संख्या 332,424 हो गई है. सोमवार की सुबह समाप्त हुए 24 घंटों में कोरोना के 11502  नए मामले सामने आए और 325 लोगों की मौत हुई. देश में अब तक 9520 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 169798 मरीज इस बीमारी को मात देने में सफल हुए हैं. रिकवरी रेट में मामूली बढ़ोतरी के साथ यह दर 51.07 प्रतिशत पर पहुंच गई है.

VIDEO:दिल्ली के अस्पतालों में निगरानी के लिए टीम गठित

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com