महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की एंट्री, वैक्सीनेशन की तैयारियां तेज

Maharashtra Coronavirus: ब्रिटेन से लौटे आठ यात्रियों में मिला कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन का संक्रमण, पांच मुंबई के और एक-एक पुणे, ठाणे और मीरा भयंदर के निवासी संक्रमित

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की एंट्री, वैक्सीनेशन की तैयारियां तेज

प्रतीकात्मक फोटो.

मुंबई:

Maharashtra Coronavirus: दुनिया भर में कहर बरपा रही कोरोना महामारी ने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) और विशेष तौर पर महाराष्ट्र राज्य को कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित किया. अब नए स्ट्रेन (Mutant Covid Strain) की एंट्री भी यहां हो गई है. इस बीच वैक्सीन अभियान (Vaccination) की तैयारी तेजी से जारी है. कम होते मामलों के बीच मुंबई के जंबो कोविड फैसिलिटी, वैक्सीन केंद्र में बदले जा रहे हैं. इधर बीजेपी ने सीएम से राज्य में फ़्री वैक्सीन देने की मांग की है. 

महाराष्ट्र में कोरोना के नए स्ट्रेन की एंट्री हो गई है. राज्य में 25 नवम्बर से 21 दिसंबर के बीच ब्रिटेन से लौटे आठ यात्रियों में संक्रमण मिला है. इनमें से पांच लोग मुंबई शहर के, एक-एक पुणे, ठाणे और मीरा भायंदर के हैं. अब इन मरीजों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है.

नए स्ट्रेन की एंट्री के बीच राज्य में कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान की तैयारी पूरी गति से जारी है. डॉक्टरों, पैरामेडिकल समेत स्वास्थ्य कर्मियों और पुलिस कर्मियों को कोविड-19 के टीके प्राथमिकता के साथ लगाए जाएंगे. टीकाकरण के दूसरे चरण में प्राथमिकता 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और अन्य बीमारियों से ग्रस्त बुजुर्गों को दी जाएगी. 

राज्य सरकार ने 18,000 वैक्सीनेटरों को प्रशिक्षित किया है. इस साल अगस्त तक तीन चरणों में तीन करोड़ से अधिक लोगों को टीकाकरण करने के लिए 4200 केंद्र और 3145 कोल्ड चेन सिस्टम स्थापित किए गए हैं. मुंबई के जंबो कोविड फ़ैसिलिटी को वैक्सीन केंद्र में बदला जाएगा.

एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर सुरेश ककानी ने कहा कि ‘'एक साथ 50000 लोगों को वैक्सीन दे पाएं, ऐसी हमने व्यवस्था की है. इसके लिए म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के जो अस्पताल हैं, मेडिकल सेंटर हैं, या डिस्पेंसरी यूनिट हैं, उनके साथ हमने जंबो सेंटर को जोड़ा है. जंबो सेंटर में जो पॉज़िटिव मरीज़ हैं उनके सम्पर्क में वैक्सीन लेने वाला व्यक्ति ना आए ऐसा हमने प्रयास किया है. और जो सेंटर इस्तेमाल में नहीं हैं, पेशेंट कम होने के कारण वो सेंटर हम इस्तेमाल कर रहे हैं. इसमें हम 15 यूनिट बनाएंगे, स्टाफ़ इसका अलग से रहेगा. एंट्री-एक्ज़िट भी अलग से रहेगी.''

बीकेसी कोविड जंबो फ़ैसिलिटी को सबसे बड़ा वैक्सीन केंद्र बनाने की तैयारी है. बीकेसी कोविड जंबो फ़ैसिलिटी के डीन डॉ राजेश डेरे ने कहा कि ‘'कल ही हमको बताया है कि बीकेसी का जो सेंटर है वहां कम से कम 15 यूनिट वैक्सीनेशन शुरू हो रही है जो किसी सेंटर में मेरे हिसाब से मुंबई भर में सबसे ज़्यादा है, और इसको दो शिफ़्ट में चलाने के लिए  बोला है. उसके बाद ज़रूरत पड़ी तो 24 घंटे भी चला लेंगे.''

इधर महाराष्ट्र कोविड टास्क फ़ोर्स वैक्सीन को लेकर लोगों में भय, भ्रांति खत्म करने की कोशिश कर रहा है. महाराष्ट्र कोविड टास्क फ़ोर्स के डॉ राहुल पंडित कहते हैं कि  ‘'तीन दिन पहले हुआ इसका ड्राई रन सफल रहा. डॉक्टरों में मोटिवेशन काफ़ी अच्छी है वैक्सीन लेने में. मैं यही कहना चाहूंगा जनता से कि वैक्सीन से डरिए मत, वैक्सीन एक मात्र चीज़ है, जो इस वक़्त ऐसा लग रहा है कि मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग के बाद वैक्सीन है जो हमको कोरोना महामारी से दूर होने में मदद करेगी.''


क्या मुंबई जीत रही है कोरोना से जंग? बुजुर्गों के लिए चली मुहिम बहुत काम आई

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उधर, बीजेपी विधायक और प्रवक्ता राम कदम ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर कोरोना संकट काल के समय सरकार की खामियां गिनाते हुए राज्य के नागरिकों को कोरोना वैक्सीन मुफ़्त में देने की मांग की है.