NDTV Khabar

जवानों को एक चांटा मारने के बदले में 100 जिहादियों को मार देना चाहिए : गौतम गंभीर

302 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जवानों को एक चांटा मारने के बदले में 100 जिहादियों को मार देना चाहिए : गौतम गंभीर

कश्मीरी नौजवानों द्वारा सेना के जवान को पीटने के वीडियो पर गौतम गंभीर ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है

खास बातें

  1. वीडियो में कश्मीरी युवकों द्वारा सेना के जवान की पिटाई करते दिखाया गया है
  2. वीडियो पर देशभर से लोगों में काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है
  3. पिटाई के बाद भी सेना का जवान संयम में हैं और मुस्कुरा रहा है
नई दिल्ली: कश्मीरी युवकों द्वारा एक सैनिक की पिटाई करते हुए वायरल हुए वीडियो पर देशभर से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. इस घटना पर देशभर में गुस्सा देखा जा रहा है. क्रिकेटर गौतम गंभीर ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए ट्विट पर इस घटना की कड़ी निंदा की है. गंभीर ने कहा है कि जिन्हें कश्मीर के लिए 'आजादी' चाहिए वे देश छोड़कर चले जाएं.

गौतम का गुस्सा इतने पर भी कम नहीं हुआ. उन्हें लिखा कि भारतीय जवानों को एक चांटा मारने के बदले में 100 जिहादियों का मार देना चाहिए.
गंभीर ने लिखा, "भारत विरोधी लोग यह भूल गए हैं कि हमारे झंडे में केसरिया रंग गुस्से का प्रतीक भी है, सफेद रंग जिहादियों के लिए कफन और हरा रंग आंतक के खिलाफ नफरत को दर्शाता है."
क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए इस घटना पर दुख जाहिर किया है. उन्होंने उसे बदतमीजी की हद बताया है.
बता दें कि वायरल हुए वीडियो में सेना का जवान अपनी ड्यूटी खत्म करके वापस जा रहा है, उस वक्त कुछ कश्मीरी युवक उस पर हमला करते हैं. उसको गालियां देते हैं, थप्पड़ मारते हैं. फिर भी जवान कोई प्रतिक्रिया न देकर केवल मुस्कुराकर रह जाता है. इस वीडियो से साफ हो जाता है कि सुरक्षा बलों पर हमला करने वाले कोई आतंकवादी नहीं, बल्कि वहां के कुछ स्थानीय लोग हैं. हालांकि इस तरह की घटनाएं घाटी में आम हैं. वहां सेना की गाड़ियों पर पथराव और आगजनी होती रहती हैं.

(इनपुट आईएएनएस से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement