Exclusive: तस्वीरें कर रही हैं इशारा, JNU में हुए हमले में ABVP के छात्रों का हाथ

एनडीटीवी को कुछ तस्वीरें मिली हैं जिनमें एबीवीपी से जुड़े लोग भीड़ के साथ दिखाई पड़ रहे हैं.

Exclusive: तस्वीरें कर रही हैं इशारा, JNU में हुए हमले में ABVP के छात्रों का हाथ

NDTV के हाथ कुछ तस्वीरें लगी हैं जो ABVP पर कई सवाल खड़े कर रही हैं

खास बातें

  • कई छात्रों ने तस्वीरें वायरल होने के बाद बंद किए अपने सोशल मीडिया अकाउंट
  • वायरल व्हाट्सएप चैट के लोगों की भी हुई पहचान
  • ABVP ने सभी आरोपों को किया खारिज, लेफ्ट छात्रों पर लगाया आरोप
नई दिल्ली:

जेएनयू में बाहर से घुसे नकाबपोशों को किसने बुलवाया? वहां हुई हिंसा का ज़िम्मेदार कौन है? लेफ्ट और एबीवीपी के लोग इस मामले में एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. लेकिन एनडीटीवी को कुछ तस्वीरें मिली हैं जिनमें एबीवीपी से जुड़े लोग भीड़ के साथ दिखाई पड़ रहे हैं. पहली तस्वीर नीचे है, जिसमें दांयी तरफ एक शख्स हाथ में डंडा लिए नजर आ रहा है. जानकारी के मुताबिक यह ABVP का विकास पटेल है जो JNU का छात्र रहा है. इसने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर भी यह परिचय लिखा है और दावा किया है कि वो जेएनयू की ABVP की एग्जिक्यूटिव कमेटी का सदस्य है. पटेल के हाथ में ठीक वैसा ही डंडा है जैसा दिल्ली पुलिस को इस्तेमाल के लिए दिया जाता है. इसी तस्वीर के केंद्र में एक शख्स खड़ा है, जिसने नीले और पीले रंग की स्वेट शर्ट पहनी हुई है. इसका नाम शिव पूजन मंडल बताया जा रहा है जोकि बीए फर्स्ट इयर का छात्र है और ABVP से भी जुड़ा हुआ है.  

s66p699kविकास पटेल (दांयी तरफ) और शिव पूजन मंडल (बीच में) हाथों में डंडे लिए हुए

एक अन्य तस्वीर में मंडल उन लोगों के हुजुम के साथ नजर आ रहा है जोकि लाठी-डंडों से लैस होकर जेएनयू कैंपस में दाखिल हो रहे थे. 

mtpmb5fgहाथों में लाठियां लेकर जेएनयू कैंपस में दाखिल होते हुए लोग, इसमें मंडल की तरह एक शख्स नजर आ रहा है
h4u8ss08यहां भी मंडल हाथ में लाठी लेकर जेएनयू कैंपस की तरफ बढ़ता हुआ नजर आ रहा है 

मंडल एक और वीडियो में नजर आया है, जो रविवार रात को कैमरे में कैद किया गया था. इस वीडियो में नकाबपोश बदमाश जेएनयू कैंपस से बाहर निकल रहे थे. 

जानकारी के मुताबिक पटेल और मंडल ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स को डीलीट कर दिया है. पटेल का नंबर उस स्क्रीन शॉट में भी नजर आ रहा है, जोकि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वायरल हो रहे व्हाट्सएप चैट में एबीवीपी के सदस्य जेएनयू कैंपस के भीतर लेफ्ट के छात्रों को सबक सिखाने की बात कहते हुए दिखाई दे रहे हैं. 

9edfj8cg

इस व्हाट्सएप चैट में ABVP सदस्यों के बीच बातचीत हो रही है

इस चैट में संस्कृत के छात्र योगेंद्र भारद्वाज और जेएनयू में पीएचडी के छात्र संदीप सिंह भी दिखाई दे रहे हैं. भारद्वाज ने भी अपना सोशल मीडिया अकाउंट डीलीट कर दिया है. लेकिन ट्विटर प्रोफाइल के कुछ स्क्रीन शॉट्स मिले हैं जहां वह खुद को एबीवीपी का सदस्य बता रहा है. 

jc9kk2s
1n5cioas

हालांकि सोशल मीडिया पर संदीप का अकाउंट अभी भी एक्टिव नजर आ रहा है. 

rkkdlj8g

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

संदीप सिंह के सोशल मीडिया अकाउंट से यह तस्वीर ली गई

व्हाट्सएप की बातचीत में भारद्वाज लेफ्ट के आतंक को खत्म करने की बात कह रहा है और लिख रहा है कि अब इन्हें पीटा जाना चाहिए. यह तीनों जेएनयू के अंदर दाखिल होने के लिए एंट्री प्वाइंट पर चर्चा कर रहे हैं. हालांकि एबीवीपी जेएनयू में हुई हिंसा में अपनी भूमिका को सिरे से खारिज कर रही है. उनका कहना है कि जो व्हाट्सएप चैट वायरल हो रहा है उसके साथ छेड़छाड़ की गई है. एबीवीपी ने इस हमले के लिए वामपंथी रुझान वाले छात्रों को जिम्मेदार बताया है.