NDTV Khabar

फेसबुक लीक पर बोली कांग्रेस, हमने कभी कैंब्रिज एनालिटिका की सेवा नहीं ली

बीजेपी ने कैंब्रिज एनालिटिका से कांग्रेस के रिश्ते का आरोप लगाया. इसके थोड़ी देर बाद ही कांग्रेस ने पलटवार किया. कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कैंब्रिज एनालिटिका से हमारा कोई लेना देना नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
फेसबुक लीक पर बोली कांग्रेस, हमने कभी कैंब्रिज एनालिटिका की सेवा नहीं ली

कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. फेसबुक के खिलाफ जांच की जा रही है
  2. 'सरकार प्रेस, भाषण और अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा समर्थन करती है'
  3. सरकार ने कहा, 'जरूरत होने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी'
नई दिल्‍ली: फेसबुक के 5 करोड़ यूज़र्स के डेटा लीक से उठा तूफ़ान भारत तक पहुंच गया है. इस डेटा लीक के लिए ज़िम्मेदार कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका के बारे में कहा जा रहा है कि उसे भारत में भी चुनावों से जोड़ने की तैयारी है. कैंब्रिज एनालिटिका ट्रंप के चुनाव प्रचार में शामिल रही है और ब्रेग्ज़िट के समय यूरोपियन यूनियन छोड़ने की मुहिम में भी. नई खबर ये बताई जा रही है कि 2019 में उसे भारत में भी उतारने की तैयारी है. बीजेपी ने कैंब्रिज एनालिटिका से कांग्रेस के रिश्ते का आरोप लगाया. इसके थोड़ी देर बाद ही कांग्रेस ने पलटवार किया. कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कैंब्रिज एनालिटिका से हमारा कोई लेना देना नहीं है. इसका इस्तेमाल तो दरअसल बीजेपी ने ही किया है. कांग्रेस का आरोप है कि 2010 बिहार विधानसभा चुनाव समेत चार राज्य चुनावों में इस कंपनी की सेवाएं ली गई थीं.

कांग्रेस ने बुधवार को एक राजनीतिक डेटा विश्लेषक कंपनी से संबंध होने से इंकार किया और भारतीय जनता पार्टी पर वर्ष 2010 में इस कंपनी से सेवा लेने का आरोप लगाया. राजनीतिक डेटा विश्लेषक कंपनी कैंब्रिज एनलिटिका (सीए) पर चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए कथित रूप से डेटा चोरी करने का आरोप है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, "कांग्रेस और इसके अध्यक्ष ने कभी भी कैंब्रिज एनलिटिका (सीए) की सेवा नहीं ली है."

इससे पहले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि पार्टी ने 2019 चुनाव अभियान के लिए इस कंपनी की मदद लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया है. उन्होंने कहा, "यह फर्जी एजेंडा है और कानून मंत्री फर्जी तथ्यों के आधार पर सफेद झूठ फैला रहे हैं." सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि भाजपा और उसकी सहयोगी जनता दल (यूनाइटेड) ने वर्ष 2010 में कैंब्रिज एनलिटिका की सेवा ली थी. सुरजेवाला ने कहा, "मुझे लगता है कि भाजपा और रविशंकर प्रसाद को कैंब्रिज एनलिटिका का काफी अनुभव है, जिसके बारे में वह कह रहे हैं कि कंपनी डेटा चोरी में संलिप्त है."

उन्होंने कंपनी की वेबसाइट का हवाला देते हुए कहा कि इसका इस्तेमाल वर्ष 2010 के बिहार विधानसभा चुनाव में पूरी चुनावी प्रक्रिया के लिए किया गया था. कांग्रेस नेता ने कहा, "अगर कंपनी ने चारी की है, तो क्यों भाजपा व जद (यू) ने इसकी सेवा ली. अपने झूठ के पुलिंदे में, वह सच बोलना भूल गए."

उन्होंने भाजपा पर 'फर्जी न्यूज' के सहारे लोगों का ध्यान जरूरी मुद्दों से भटकाने का आरोप लगाया. सुरजेवाला ने कहा, "भाजपा की फर्जी न्यूज की फैक्ट्री ने लोगों का ध्यान भटकाने के लिए आज एक और फर्जी न्यूज का उत्पादन किया है. जब देश इराक में मारे गए 39 भारतीयों के बारे में पूछ रहा है, तो वे लोग दलित व आदिवासी के मुद्दे से ध्यान भटकाने, राहुलजी के कर्नाटक दौरे से ध्यान भटकाने के लिए, एक और नए झूठ के साथ सामने आ गए." भाजपा ने आरोप लगाया है कि यह कंपनी डेटा चोरी में संलिप्त है और चेतावनी दी कि चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने के किसी भी प्रयास को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

VIDEO: फेसबुक डाटा लीक पर भिड़े BJP-कांग्रेस

गौरतलब है कि भारत ने बुधवार को फेसबुक को आगाह किया कि यदि उसने देश की चुनाव प्रक्रिया को किसी भी अवांछित तरीके से प्रभावित करने का प्रयास किया तो उसे कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा. अमेरिका के नियामक द्वारा फेसबुक के खिलाफ प्रयोगकर्ताओं की गोपनीयता के संभावित उल्लंघन की जांच की जा रही है.

टिप्पणियां
सूचना प्रौद्योगिकी और कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार प्रेस, भाषण और अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा समर्थन करती है. साथ ही वह सोशल मीडिया पर विचारों के आदान प्रदान के पक्ष में भी है. संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में प्रसाद ने कहा कि फेसबुक सहित कोई भी सोशल मीडिया साइट यदि अवांछित तरीके से देश की चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास करती है, तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. जरूरत होने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.’’

(इनपुट आईएएनएस से...)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement