Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

दिल्ली: बुराड़ी के जिस घर में 11 लोगों ने की थी आत्महत्या, अब रहने आया नया परिवार

डॉक्टर मोहन सिंह का परिवार बुराड़ी के उस घर में शिफ्ट हुआ है. घर में डायग्नोस्टिक सेंटर भी खोला गया है. पूजा-पाठ के बाद उन्होंने इसकी शुरूआत की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली: बुराड़ी के जिस घर में 11 लोगों ने की थी आत्महत्या, अब रहने आया नया परिवार

बुराड़ी के इस घर में आया एक परिवार, खोला गया डायग्नोस्टिक सेंटर भी

खास बातें

  1. बुराड़ी सुसाइड केस से दहल गई थी दिल्ली
  2. परिवार ने की थी सामूहिक खुदकुशी
  3. परिवार के 11 लोगों ने की थी आत्महत्या
नई दिल्ली:

1 जुलाई, 2018 की घटना से राजधानी दिल्ली सहम उठी थी. यहां बुराड़ी इलाके में एक परिवार के 11 सदस्यों के आत्महत्या करने की खबर पर लोगों को यकीन नहीं हो रहा था. मरने वालों में बच्चे और बुजुर्ग भी थे. 10 लोगों के शव घर में बने लोहे के जाल से लटके मिले थे और एक शव बिस्तर पर मिला था. अंधविश्वास के चलते खुदकुशी को अंजाम दिए जाने की बात सामने आई थी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी आत्महत्या की तस्दीक हुई थी. जिसके बाद उस घर को लेकर तरह-तरह की खबरें उड़ने लगीं. कोई उसे हॉन्टेड हाउस का नाम दे रहा था तो कुछ पड़ोसियों ने घर से अजीबोगरीब आवाजें सुनने का जिक्र किया था. कहा गया कि अब कोई भी उस घर में रहने को तैयार नहीं है. करीब डेढ़ साल बाद अब एक परिवार उस घर में रहने आया है.

न्यूज एजेंसी ANI की खबर के अनुसार, डॉक्टर मोहन सिंह का परिवार बुराड़ी के उस घर में शिफ्ट हुआ है. मोहन सिंह ने इस घर को किराए पर लिया है. वह पेशे से लैब टेक्निशियन हैं. उनका परिवार ग्राउंड फ्लोर पर रहेगा. घर के इसी फ्लोर पर डायग्नोस्टिक सेंटर भी खोला गया है. पूजा-पाठ के बाद उन्होंने इसकी शुरूआत की. डॉक्टर सिंह ने कहा, 'मैं अंधविश्वास में यकीन नहीं करता हूं. अगर मैं इन बातों में यकीन करता तो यहां नहीं आता. मेरे मरीजों को यहां टेस्ट के लिए आने में कोई परेशानी नहीं है. घर सड़क के किनारे है तो ये सुविधाजनक भी है.'


बुराड़ी केस में 11 मौतों के 22 दिन बाद परिवार के पालतू कुत्ते की मौत, जानें, क्या थी वजह

बुराड़ी में उस घर के पास रहने वाले रविंद्र कहते हैं कि जो हुआ सो हुआ, अब सब ठीक है. पड़ोसी सुरेश कहते हैं, 'वो लोग (आत्महत्या करने वाला परिवार) अच्छे थे और यहां पर उनकी आत्मा भटकने जैसा कुछ नहीं है. उनकी आत्मा सीधे स्वर्ग गई होगी.' बताते चलें कि इस घटना के बाद पुलिस को घर से कई ऐसी चीजें बरामद हुई थीं जिनसे साबित हो रहा था कि परिवार ने अंधविश्वास के चलते ऐसा किया है. (इनपुट ANI से भी)

(आत्‍महत्‍या किसी समस्‍या का समाधान नहीं है. अगर आपको या किसी जानने वाले को मदद की जरूरत है तो आप पास के मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट से संपर्क करें)

हेल्पलाइन नंबर :
आसरा : 91-22-27546669 (24 घंटे सेवा)
स्नेहा फाउंडेशन : 91-44-24640050 (24 घंटे सेवा)
वंद्रेवाला फाउंडेशन : 1860-2662-345, 1800-2333-330 (24 घंटे सेवा)
iCall :  022-25521111 (सोमवार से शनिवार, सुबह 8:00 बजे से रात 10:00बजे तक)
कनेक्टिंग एनजीओ : 18002094353 ( दोपहर 12 बजे से 8 बजे तक)

टिप्पणियां

VIDEO: बुराड़ी कांड का CCTV फुटेज आया सामने



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... Tanhaji Box Office Collection Day 43: अजय देवगन की फिल्म ने बनाया कमाई का नया रिकॉर्ड, जानें कुल कलेक्शन

Advertisement