NDTV Khabar

पी चिदंबरम के इलाज से परिवार संतुष्ट नहीं, कहा- उनका वजन 8-9 किलो हो चुका है कम

दिल्ली की एक अदालत द्वारा आईएनएक्स मीडिया धनशोधन मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्बरम की न्यायिक हिरासत 27 नवंबर तक बढ़ाये जाने के कुछ घंटे बाद उनके परिवार ने कहा कि...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पी चिदंबरम के इलाज से परिवार संतुष्ट नहीं, कहा- उनका वजन 8-9 किलो हो चुका है कम

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली की एक अदालत द्वारा आईएनएक्स मीडिया धनशोधन मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्बरम की न्यायिक हिरासत 27 नवंबर तक बढ़ाये जाने के कुछ घंटे बाद उनके परिवार ने कहा कि तिहाड़ जेल में उनका क्रोहन रोग (पेट संबंधी बीमारियों) का किया जा रहा इलाज संतोषजनक नहीं है और बीमारी के बढ़ जाने से उनका वजन लगातार घटता जा रहा है. पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि हिरासत के दौरान चिदम्बरम का वजन करीब 8-9 किलोग्राम घट गया है.

आईएनएक्स मीडिया मामला : अदालत ने चिदंबरम की न्यायिक हिरासत 27 नवंबर तक बढ़ाई

सूत्र ने कहा, ‘‘जेल में उनके किये जा रहे इलाज से हम संतुष्ट नहीं हैं. उन्हें काफी परेशानियां हैं. उनका हैदराबाद के मशहूर पेट रोग विशेषज्ञ डॉ नागेश्वर रेड्डी से तत्काल इलाज कराया जाना चाहिए क्योंकि वह उनके स्वास्थ्य के बारे में जानते हैं और उन्होंने ही 2016 में उनका उपचार किया था.'' सूत्रों ने कहा कि रेड्डी के इलाज के बाद वह कुछ अच्छा महसूस करने लगे थे.


RCEP पर बोले चिदंबरम: 2012 और 2019 के बीच अंतर सिर्फ अर्थव्यवस्था की 'बदहाल' स्थिति है

टिप्पणियां

सूत्र ने कहा, ‘‘हम उनकी जमानत अर्जी पर दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. यह आदेश आठ नवंबर से सुरक्षित रख लिया गया है.'' चिदम्बरम को आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में 21 अगस्त को सीबीआई ने गिरफ्तार किया था. बुधवार को उन्हें वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश किया गया क्योंकि वकील हड़ताल पर हैं. अदालत ने इसी मामले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दर्ज धनशोधन के मामले में उनकी न्यायिक हिरासत में 27 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी है.

Video: पी चिदंबरम को CBI वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट से मिली जमानत



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement