NDTV Khabar

जब ओडिशा में 'फानी' मचा रहा था कहर, तभी पैदा हुई यह बच्ची और नाम रखा 'फोनी'

भुवनेश्वर में इस चक्रवात के बीच एक बच्ची ने जन्म लिया जिसका नाम फ़ोनी (फानी) रखा गयाय. बच्ची कल सुबह 11 बजे रेलवे अस्पताल में पैदा हुई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब ओडिशा में 'फानी' मचा रहा था कहर, तभी पैदा हुई यह बच्ची और नाम रखा 'फोनी'

फानी के नाम पर बच्ची का नाम

भुवनेश्वर:

चक्रवाती तूफ़ान फ़ानी (फोनी) ने तबाही मचाई हुई है. ओडिशा में तूफान फानी के कहर से अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है और कई जगहों पर भारी नुकसान हुआ है. मगर इस बीच भुवनेश्वर में इस चक्रवात के बीच एक बच्ची ने जन्म लिया जिसका नाम फ़ोनी (फानी) रखा गयाय. बच्ची कल सुबह 11 बजे रेलवे अस्पताल में पैदा हुई. बच्ची की मां रेलवे कर्मचारी है. बताया जा रहा है कि मां और बच्ची दोनों स्वस्थ हैं. 

Cyclone Fani: दक्षिण भारत पर मंडराया 'फेनी चक्रवात' का संकट, 145 KM प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है हवा

दरअसल, ओडिशा के तटीय इलाकों में तबाही मचाने के बाद अब चक्रवाती तूफ़ान फोनी पश्चिम बंगाल पहुंच चुका है. इसके कारण राज्य के कई इलाको में तेज़  हवाओं के साथ जमकर बारिश हो रही है. हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दो दिन तक रैलियों को रद्द कर दिया है. इससे पहले फैनी तूफ़ान ने ओडिशा में ज़बरदस्त तबाही मचाई है 8 लोगों की मौत हो चुकी है और क़रीब 11 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है.. तूफ़ान के चलते ओडिशा के कई इलाक़ों में बिजली काट दी गई. तूफ़ान के चलते एयरपोर्ट की बिल्डिंग को नुकसान पहुंचा है. सैकड़ों पेड़ उखड़ गए वहीं कई घरों की छतें उड़ गईं. 

Fani Cyclone: आखिर तूफान का नाम 'फानी' कैसे पड़ा? जानिए इससे जुड़ी खास बातें


कैसे तय होता है तूफान का नाम?
सबसे पहले विश्‍व मौसम विज्ञान संगठन ने चक्रवातों के नाम रखने की शुरुआत की. वहीं, भारत में तूफानों का नाम देने का चलन 2004 से शुरू हुआ. भारत के साथ-साथ पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका, मालदीव, म्यांमार, ओमान और थाइलैंड ने भी तूफानों का नाम देने का फॉर्मूला तैयार किया. इन 8 देशों की ओर से सुझाए गए नामों के पहले अक्षर के अनुसार उनका क्रम तय किया जाता है और उसी क्रम के अनुसार चक्रवातों के नाम रखे जाते हैं.

टिप्पणियां

VIDEO: बंगाल में फोनी तूफानी की आहट, एनडीआरएफ की टीमें तैनात



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement