विपक्षी सांसदों के निलंबन पर गुस्साया विपक्ष, कांग्रेस ने कहा - भारत में हो रही लोकतंत्र की हत्या

किसान बिल को लेकर राज्यसभा में रविवार को हुए हंगामे के चलते तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ'ब्रायन सहित आठ विपक्षी सांसदों को निलंबित कर दिया गया है.

विपक्षी सांसदों के निलंबन पर गुस्साया विपक्ष, कांग्रेस ने कहा - भारत में हो रही लोकतंत्र की हत्या

विपक्षी सांसदों के निलंबन पर विपक्ष का सरकार पर निशाना (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कृषि क्षेत्र से जुड़े दो विधेयकों (Farm Bills) को लेकर रविवार को राज्यसभा (Rajya Sabha) में जमकर हंगामा हुआ. विपक्षी सांसदों ने सदन में जमकर नारेबाजी की. साथ ही रूल बुक भी फाड़ी और सदन के वेल तक पहुंच गए. हंगामे को लेकर विपक्षी पार्टियों के आठ सांसदों को सदन से एक हफ्ते के लिए आज निलंबित कर दिया गया है. सांसदों के निलंबन पर विपक्षी दलों ने तीखी प्रतिक्रिया जताई है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश (Jairam Ramesh) ने कहा कि भारत में लोकतंत्र की हत्या जारी है.  

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने सोमवार को अपने ट्वीट में लिखा, "आठ सांसदों को बिना उनका पक्ष सुने एकतरफा तरीके से राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया... निलंबन प्रस्ताव पर कोई वोटिंग भी नहीं हुई, और विपक्ष के नेता को बोलने का अवसर भी नहीं दिया गया... भारत में लोकतंत्र की हत्या जारी है..."

वहीं तृणमूल कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा, "बिल्कुल अविश्वसनीय! कल राज्यसभा में विपक्षी नेताओं की आवाज को खामोश करके BJP द्वारा लोकतंत्र की हत्या की गई. देश के नागरिकों को अपनी आवाज़ उठानी चाहिए, इससे पहले ही हम पूरी तरह से नरेंद्र मोदी जी की तानाशाही के अधीन हो जाए!"

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री तथा तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने ट्वीट किया, "किसानों के हितों की रक्षा के लिए लड़ने वाले आठ सांसदों का निलंबन दुर्भाग्यपूर्ण है, और इस निरंकुश सरकार की सोच का परिचायक है कि वह लोकतांत्रिक नियमों और सिद्धांतों का सम्मान नहीं करती... हम नहीं झुकेंगे और इस फासीवादी सरकार से संसद में और सड़कों पर लड़ेंगे..."

Newsbeep

किसान बिल को लेकर राज्यसभा में रविवार को हुए हंगामे के चलते तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ'ब्रायन सहित आठ विपक्षी सांसदों को निलंबित कर दिया गया है. जिन सांसदों को सस्पेंड किया गया है, उनमें डेरेक ओ'ब्रायन (तृणमूल कांग्रेस), संजय सिंह (आप), राजीव साटव (कांग्रेस), के.के. रागेश (सीपीएम), सैयद नासिर हुसैन (कांग्रेस), रिपुन बोरा (कांग्रेस), डोला सेन (तृणमूल कांग्रेस), एलामरम करीम (सीपीएम) शामिल हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com