किसान ट्रैक्टर रैली हिंसा मामले में 200 लोग लिए गए हिरासत में

अभी तक हिंसा के मामले में दिल्ली के अलग-अलग थानों में 22 मामले दर्ज किए जा चुके हैं. दिल्ली पुलिस की ओर से बताया जा रहा है कि हिंसा में करीब 300 लोग घायल हुए हैं.

गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा (Tractor Parade Violence) को लेकर अब दिल्ली पुलिस (Delhi Police) सख्ती के मूड में दिखाई दे रही है. करीब 200 लोगों को हिरासत में लिया गया है. इन लोगों के खिलाफ दंगा फैलाने, पुलिसकर्मियों पर हमला करने समेत कई संगीन धाराएं लगाई गई हैं. बताया जा रहा है कि इन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इस मामले में जो केस दर्ज किए गए हैं, उनमें कई किसान नेताओं (Farner Leaders) के नाम भी शामिल हैं.

Read Also: संयुक्‍त किसान मोर्चा ने कहा, 'हिंसा के लिए हम जिम्‍मेदार नहीं, जिन्‍होंने बैरिकेड तोड़े वे पन्‍नू ग्रुप के सदस्‍य'

बताते चलें कि अभी तक हिंसा के मामले में दिल्ली के अलग-अलग थानों में 22 मामले दर्ज किए जा चुके हैं. दिल्ली पुलिस की ओर से बताया जा रहा है कि हिंसा में करीब 300 लोग घायल हुए हैं, इनमें ज्यादात्तर पुलिसकर्मी हैं. 

Read Also: सिंघु बॉर्डर पर किसान नेताओं ने फिर दोहराया, बिल वापस होने तक शांतिपूर्ण आंदोलन करते रहेंगे, 7 बड़ी बातें


गौरतलब है कि किसान समूहों की ट्रैक्टर परेड के दौरान कई जगहों पर पुलिस के साथ झड़प हुई. इसके बाद पुलिस ने किसान समूहों पर आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया. दिल्ली की सीमा पर कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड्स तोड़ दिए. ट्रैक्टर परेड के लिए निर्धारित मार्ग से हटकर प्रदर्शनकारी किसानों का एक समूह मंगलवार को लालकिले में घुस गया और इस ऐतिहासिक स्मारक के कुछ गुंबदों पर अपने झंडे लगा दिए थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: उपद्रवियों ने लाल किले के भीतर जमकर की तोड़-फोड़