किसान आंदोलन संसद के बजट सत्र की कार्यवाही का हिस्सा नहीं होगा : लोकसभा अध्यक्ष

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा-संसद का बजट सत्र सभी COVID-19 प्रोटोकॉल के साथ चलेगा, सांसदों से आरटी- पीसीआर टेस्ट कराने का अनुरोध किया जाएगा

किसान आंदोलन संसद के बजट सत्र की कार्यवाही का हिस्सा नहीं होगा : लोकसभा अध्यक्ष

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बजट सत्र की तैयारियों को लेकर बैठक की.

नई दिल्ली:

संसद की बजट सत्र दो चरणों में होगा. पहला चरण 29 जनवरी से 15 फरवरी तक और दूसरा चरण 8 मार्च से 8 अप्रैल तक चलेगा. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को बजट सत्र की व्यवस्थाओं को लेकर बैठक की. उन्होंने बैठक के बाद प्रेस से बातचीत में कहा कि किसान आंदोलन सत्र की कार्यवाही का हिस्सा नहीं है. यहां से बिल पास हो चुका है. सदन में किस विषय पर चर्चा होगी,  इस पर मिलकर बिजनेस एडवाइजरी कमेटी फैसला होगा. संसद की कैंटीन में सब्सिडी खत्म कर दी गई है. 

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, आयुष मंत्रालय, NDMC, CPWD, DRDO, ICMR, AIIMS, दिल्ली पुलिस तथा दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ संसद ग्रंथालय भवन में एक बैठक की. यह बैठक आगामी बजट सत्र से संबंधित व्यवस्थाओं पर चर्चा के लिए आयोजित की गई थी. 

बैठक के दौरान बिरला को बताया गया कि सितंबर 2020 में वैश्विक महामारी के बीच आयोजित मॉनसून सत्र के दौरान विकसित की गई सभी COVID संबंधित मानक संचालन प्रक्रियाएं (SoPs) जारी रहेंगी. ओम बिरला को यह भी बताया  गया कि सभी सदस्यों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट 27 और 28 जनवरी को संसद भवन परिसर (पीएचसी) में किए जाएंगे.  पीएचसी के अलावा अन्य स्थानों पर भी परीक्षण किए जाएंगे जिनमें   नॉर्थ एवेन्यू, साउथ एवेन्यू, बीडी मार्ग आदि शामिल हैं. तत्काल COVID चिकित्सा के लिए सदस्यों को आपातकालीन वार्ड  आरएमएल अस्पताल में उपलब्ध किए जाएंगे. 

बिरला ने आगामी सत्र के दौरान पीएचसी की नियमित रूप से  स्वच्छता और फूमिगशन करने के लिए संबंधित एजेंसियों को निर्देश दिए.


बिरला ने बाद में  मीडिया से बातचीत की. बातचीत के दौरान बिरला ने बताया कि सत्र के पहले चरण में लोक सभा में 12 बैठकें आयोजित की जाएंगी और सत्र के दूसरे चरण में 21 बैठकें होंगी. प्रश्नकाल एवं  शून्यकाल इस सत्र के दौरान आयोजित किए जाएंगे. बिरला ने यह भी बताया कि सदन की कार्यवाही के दौरान सभी COVID दिशानिर्देश लागू रहेंगे और सत्र को सभी COVID-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आयोजित किया जाएगा.  संसद सदस्यों से आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने के लिए अनुरोध किया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


COVID टीकाकरण के संबंध में पूछे गए सवालों के जवाब में श्री बिरला ने कहा कि टीकाकरण प्रक्रिया सरकार की नीति के अनुसार ही आगे बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि सदन सुचारू रूप से चले, हमने मापदंड तय किए हैं. राज्यसभा 9 से 2 बजे तक और लोकसभा 4 से 9 बजे तक चलेगी.