'नहीं बनी बात तो 26 जनवरी को आएगी सुनामी', 10वें दौर की वार्ता से पहले बोले किसान नेता

किसान नेता प्रेम सिंह पंगू ने एनडीटीवी से कहा, "आज की मीटिंग को लेकर बहुत उम्मीदें हैं. पिछली मीटिंग में सरकार ने कहा था कि वो कृषि कानून रद्द करने को लेकर मन बना कर आएगी. अगर आज की मीटिंग सफल नहीं हो पाती है तो 26 तारीख को दुनिया देखेगी. किसानों में बहुत रोष और गुस्सा है.

खास बातें

  • 10वें दौर की वार्ता से पहले किसानों से पुलिस अफसरों की बातचीत
  • दोपहर दो बजे के बाद केंद्र सरकार के प्रतिनिधियों से भी होगी बातचीत
  • किसान नेता ने कहा, वार्ता विफल हुई तो 26 जनवरी को दिल्ली में आएगी सुनामी
नई दिल्ली:

आंदोलनरत किसानों (Farmers Agitation) की सरकार के प्रतिनिधियों के साथ मीटिंग से पहले आज पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक हो रही है. यह बैठक 11 बजे से विज्ञान भवन की एनेक्सी में हो रही है. बैठक में दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर,आईजी मेरठ और सोनीपत पुलिस के अधिकारी मौजूद हैं. माना जा रहा है कि गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर ट्रैक्टर रैली को लेकर इसमें चर्चा होगी. इससे पहले सिंघू बॉर्डर से कुछ किसान नेता इस बैठक में शामिल होने के लिए रवाना हुए. बाकी किसान नेता सरकार के साथ 2 बजे की मीटिंग में शामिल होंगे. 

किसान नेता प्रेम सिंह पंगू ने एनडीटीवी से कहा, "आज की मीटिंग को लेकर बहुत उम्मीदें हैं. पिछली मीटिंग में सरकार ने कहा था कि वो कृषि कानून रद्द करने को लेकर मन बना कर आएगी. अगर आज की मीटिंग सफल नहीं हो पाती है तो 26 तारीख को दुनिया देखेगी. किसानों में बहुत रोष और गुस्सा है. 26 जनवरी को सुनामी आएगी."

किसानों और सरकार के बीच आज 10वें दौर की वार्ता, ट्रैक्टर रैली पर सुप्रीम कोर्ट में भी सुनवाई- 10 बड़ी बातें

उन्होंने कहा, पुलिस के साथ हमारी 26 तारीख को लेकर मीटिंग चल रही है. वो हमसे रैली के बारे में पूछ रहे हैं. हमें लगता है वो परेड की अनुमति दे देंगे. अगर अनुमति नहीं दी तो हम मीटिंग कर आगे की रणनीति तय करेंगे."

किसान नेता ने कहा कि आज की मीटिंग में सरकार के साथ एनआईए के नोटिस का मुद्दा भी उठाएंगे. पिछली बार भी उठाया था तब केवल 2 नोटिस आये थ. उन्होंने आरोप लगाया और पूछा, "एनआईए ने किसान नेताओं और किसान आंदोलन को समर्थन देने वालों पर देशद्रोह में केस दर्ज किया है. क्या किसान देशद्रोही हैं? ये बहुत ही गंभीर मामला है."


सुप्रीम कोर्ट की कमेटी की अहमियत ही नहीं, उससे बात नहीं करेंगे: बलदेव सिंह सिरसा

वीडियो- रवीश कुमार का प्राइम टाइम : रैली, विरोध-प्रदर्शन रोकने के लिए कोर्ट का रुख करना कितना जायज?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com