किसानों ने बजट के दिन संसद तक पैदल मार्च करने का किया ऐलान, गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर निर्णय

दिल्ली पुलिस ने भी व्यापर विचार-विमर्श के बाद किसानों को ट्रैक्टर रैली की इजाजत दे दी है.साथ ही यह भी कहा कि देश विरोधी तत्व रैली का लाभ उठाने की कोशिश कर रहे हैं. रैली के साथ किसानों के कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन के दो माह भी पूरे हो रहे हैं.

किसानों ने बजट के दिन संसद तक पैदल मार्च करने का किया ऐलान, गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर निर्णय

नई दिल्ली:

गणतंत्र दिवस पर किसानों की अप्रत्याशित रैली को व्यापक समर्थन मिल रहा है. उत्तर प्रदेश, हरियाणा समेत कई राज्यों की पुलिस को कानून-व्यवस्था बनाने के लिए जतन करना पड़ रहा है. यूपी में दिल्ली जाने के लिए किसानों ने बागपत में बैरीकेड तोड़ दिया. हरियाणा पुलिस ने कहा है कि इस बार वे किसी को नहीं रोकेगी. वहीं किसान एक फरवरी को बजट के दिन संसद तक पैदल मार्च की योजना बना रहे हैं.

दिल्ली पुलिस ने भी व्यापर विचार-विमर्श के बाद किसानों को ट्रैक्टर रैली की इजाजत दे दी है.साथ ही यह भी कहा कि देश विरोधी तत्व रैली का लाभ उठाने की कोशिश कर रहे हैं. रैली के साथ किसानों के कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन के दो माह भी पूरे हो रहे हैं. दिल्ली की सीमाओं पर किसान लंबे समय से डेरा डाले हैं.


दिल्ली पुलिस प्रमुख एसएन श्रीवास्तव ने कहा कि कुछ राष्ट्र विरोधी तत्व ट्रैक्टर रैली को भड़काने की कोशिश कर रहे हैं. वहीं कुछ लोग इस किसान रैली का फायदा उठाने के प्रयास में जुटे हैं. किसानों ने शुक्रवार को सिंघु बॉर्डर पर एक युवक को पकड़ा था. युवक ने दावा किया था कि उसे एक पुलिसकर्मी ने ट्रैक्टर रैली में बाधा डालने और किसान नेताओं को मारने की साजिश रची थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


किसानों की ट्रैक्टर रैली के लिए पुलिस ने भारी सुरक्षा इंतजाम किए हैं. राजपथ पर सशस्त्र सेनाओं की पारंपरिक परेड के बाद किसानों की ट्रैक्टर रैली 10 बजे शुरू होगी. किसानों की ट्रैक्टर रैली रिंग रोड के साथ दिल्ली के तीन हिस्सों से शुरू होगी.पुलिस का कहना है कि ट्रैक्टर रैली रिपब्लिक डे परेड खत्म होने के पहले दिल्ली शुरू नहीं हो सकती.