सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों का होगा Covid टेस्ट, सोनीपत के DM ने दिए आदेश

Farmer's Protest March : सोनीपत के डीएम श्याम लाल पूनिया ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे धरने पर बैठे ऐसे किसानों की लिस्ट तैयार करें जिन्हें तेज बुखार है. ऐसे किसानों की कोविड-19 की जांच की जाएगी. अगर कोई किसान कोरोना संक्रमित मिलता है तो उसे बेहतरीन उपचार सुविधा दी जाएगी.

सोनीपत:

दिल्ली-हरियाणा के बीच सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के लिए डटे किसानों का कोविड टेस्ट (Covid Tests of Farmers) कराया जाएगा. इसके लिए सोनीपत के डीएम श्याम लाल पूनिया ने आदेश दिए हैं. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे धरने पर बैठे ऐसे किसानों की लिस्ट तैयार करें जिन्हें तेज बुखार है. ऐसे किसानों की फ्री में कोविड-19 की जांच की जाएगी. अगर कोई किसान कोरोना संक्रमित मिलता है तो उसे बेहतरीन उपचार सुविधा दी जाएगी.

पूनिया ने बुधवार को हालात की समीक्षा करते हुए अपने अधिकारियों से कहा कि किसान बड़ी संख्या में एक जगह पर इकट्ठा हुए हैं. ऐसे में उनकी स्वास्थ्य जांच लगातार जारी रखी जाए. साथ ही किसानों को कोविड जांच के लिए भी तैयार करें. उन्होंने कहा कि किसानों को मास्क का वितरण भी नियमित रूप से करते हुए प्रयोग के लिए प्रोत्साहित करें.

प्रदर्शन स्थल पर इकट्ठा हुई महिलाओं को विशेष सुरक्षा और सुविधा देने के निर्देश भी दिए गए हैं. इसके लिए डीएम ने महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम गठित करने के निर्देश दिए हैं.

बता दें कि पंजाब, हरियाणा सहित देश के कई राज्यों से दिल्ली की ओर लाखों की तादाद में किसानों ने कूच किया है. सिंघु बॉर्डर सहित दिल्ली से लगने वाली कई सीमाओं पर ये किसान टिके हुए हैं. वहीं, उनके समर्थन में कई दूसरे संगठनों ने भी आंदोलन में हिस्सा लेने का फैसला किया है, जिसके बाद इनकी तादाद लगातार बढ़ती ही जा रही है. ऐसे में सिंघु बॉर्डर पर इतनी बड़ी संख्या में इकट्ठा हुए किसानों का कोविड टेस्ट कराने का फैसला लिया गया है.

Video: किसान आंदोलन की फंडिंग पर उठे सवालों का जवाब

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com