फारुख अब्दुल्ला से ईडी कर रही पूछताछ, क्रिकेट संघ के कोष में गड़बड़ी का आरोप

Jammu-Kashmir Cricket Association :जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला से श्रीनगर में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पूछताछ कर रही है. ED की यह जांच 2015 में सीबीआई द्वारा कई करोड़ के घोटाले को लेकर हुई दर्ज एफआईआर से जुड़ी हुई है.

फारुख अब्दुल्ला से ईडी कर रही पूछताछ, क्रिकेट संघ के कोष में गड़बड़ी का आरोप

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला पर कोष में अनिमियतता का आरोप (फाइल फोटो)

श्रीनगर:

Jammu-Kashmir Cricket Association : जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला से श्रीनगर में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पूछताछ कर रही है. ED की यह जांच 2015 में सीबीआई द्वारा कई करोड़ के घोटाले को लेकर हुई दर्ज एफआईआर से जुड़ी हुई है.

सीबीआई ने जम्मू-कश्मीर क्रिकेट संघ के कोष में अनियमितता और गबन के मामले में फारुख अब्दुल्ला और तीन अन्य के खिलाफ श्रीनगर की एक अदालत में कुछ समय पहले आरोप पत्र दाखिल किया था. उसी केस के सिलसिले में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों तहत ED यह पूछताछ कर रही है.दरअसल, बीसीसीआई ने साल 2002 से 2011 के बीच राज्य में क्रिकेट सुविधाओं के विकास के लिए 112 करोड़ रुपये दिए थे.

Newsbeep

आरोप है कि इस रकम में से 43.69 करोड़ रुपये का गबन किया गया. इस मामले में जांच एजेंसी ने जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन के तत्कालीन अध्यक्ष फारुख अब्दुल्ला, तत्कालीन महासचिव मोहम्मद सलीम खान, तत्कालीन कोषाध्यक्ष अहसान अहमद मिर्जा और जेएंडके बैंक के एक कर्मचारी बशीर अहमद मिसगर पर आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी के आरोप लगाए गए थे. इसके बाद ED ने भी मनी लांड्रिंग की धाराओ के तहत तफ्तीश शुरू की थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि पांच अगस्त 2019 के बाद नजरबंद फारुख अब्दुल्ला को मार्च 2020 में रिहा किया गया था. इसके बाद उनके बेटे और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला पर से जन सुरक्षा कानून हटा. पीडीपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को हाल ही में रिहाई मिली है. इन नेताओं ने जम्मू-कश्मीर के अन्य छोटे दलों के साथ बैठक कर अनुच्छेद 370 की बहाली के लिए मुहिम चलाने का फैसला किया है.