NDTV Khabar

फारूक अब्दुल्ला ने चुनाव में अपनी पार्टी के हिस्सा लेने को लेकर दिया बड़ा बयान

फारूक अब्दुल्ला कहा प्रदेश में चुनाव के लिए हालात अनुकूल नहीं है. लिहाजा हमारी पार्टी ने आगामी नगरपालिका और पंचायत चुनाव से अलग रहने की घोषणा की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
फारूक अब्दुल्ला ने चुनाव में अपनी पार्टी के हिस्सा लेने को लेकर दिया बड़ा बयान

फारूक अब्दुल्ला ने कहा नहीं लड़ेंगे चुनाव

नई दिल्ली: नेशनल कान्फ्रेंस (एनसी) ने बुधवार को जम्मू एवं कश्मीर में आगामी नगरपालिका व पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने का एलान किया. उन्होंने कहा प्रदेश में चुनाव के लिए हालात अनुकूल नहीं है. लिहाजा हमारी पार्टी ने आगामी नगरपालिका और पंचायत चुनाव से अलग रहने की घोषणा की. फारूक अब्दुल्ला श्रीनगर में एक प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी नगरपालिका और पंचायत चुनाव में तब तक हिस्सा नहीं लेगी जब तक केंद्र निवासियों (जम्मू-कश्मीर) को विशेषाधिकार प्रदान करने वाले अनुच्छेद 35 ए पर अपना रुख स्पष्ट नहीं करेगी और इसकी रक्षा के लिए प्रभावी कदम नहीं उठाएगी.

यह भी पढ़ें: आजादी कश्मीर घाटी के लिए विकल्प नहीं : फारुख अब्दुल्ला

साथ ही उन्होंने कहा कि कोर ग्रुप का मानना है कि नगरपालिका और पंचायत चुनाव करवाने का फैसला जल्दबाजी में लिया गया और इससे पहले अनुच्छेद 35 ए के संबंध में व्यर्थ की बातों से अनावश्यक रूप से पैदा हुए हालात पर विचार नहीं किया गया. गौरतलब है कि इससे पहले बुधवार को ही फारूक अब्दुल्ला के पुत्र और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि केंद्र सरकार को अब अनुच्छेद 35 ए के संबंध में अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए.सिर्फ अदालत की कार्यवाही को लंबित करने के लिए पंचायत और नगरपालिका चुनाव करवाना ठीक नहीं है.

यह भी पढ़ें: संसद का शीतकालीन सत्र आज से, विपक्ष ने की सरकार को घेरने की तैयारी

सर्वोच्च न्यायालय ने 31 अगस्त को अनुच्छेद 35 ए को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई स्थगित कर दी क्योंकि केंद्र ने सरकार से मामले पर जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव होने के बाद विचार करने की मांग की थी. आठ चरणों में होने वाला चुनाव दिसंबर में पूरा होगा. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही फारूक अब्दुल्ला ने कश्मीर की आजादी को लेकर एक बयान दिया थआ. उन्होंने कहा था कि भारत, पाकिस्तान और चीन के बीच में स्थित होने के कारण घाटी के लिए आजादी कोई विकल्प नहीं है.

यह भी पढ़ें: फारूक अब्दुल्ला बोले- जम्मू-कश्मीर में अगला विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी नेशनल कॉन्फ्रेंस

टिप्पणियां
पुंछ जिले के मंडी इलाके में पार्टी की एक सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री फारूक ने कहा कि आजादी कोई विकल्प नहीं है. एक तरफ चीन और पाकिस्तान जैसी परमाणु शक्तियां हैं, और दूसरी तरफ हमारे पास भारत है.उन्होंने कहा, "हमारे पास न परमाणु बम है, न सेना है और न लड़ाकू विमान हैं.

VIDEO: वाजपेयी का जी का दिल सबके लिए धड़कता था- फारूक अब्दुल्ला.

स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में हम कैसे जिंदा रह पाएंगे? लेकिन इसका मतलब यह भी नहीं कि हम भारत के गुलाम हैं." नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक ने कहा कि भारत को हरहाल में यहां के लोगों की गरिमा का आदर और सम्मान करना होगा, अन्यथा कश्मीर के हालात नहीं बदलेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement